Breaking News

हत्या, चोरी व गुमशुदगी का राजफाश करना पुलिस के लिए बनी चुनौती

 


बेल्थरारोड, बलिया। नगरा पुलिस लूट की घटनाओं के अलावे अन्य घटनाओं को अपराध नहीं मान रही,तभी तो हत्या,चोरी,गुमशुदगी की घटनाओं का राजफाश और अपराधियों की धर पकड़ हेतु गम्भीर नहीं है।हत्या की घटना के बाद थाना प्रभारी लाइन हाजिर कर दिए गये और नए थानाध्यक्ष की तैनाती कर दी गयी किन्तु नए थानाध्यक्ष के लिए ये घटनाएं चुनौती है।

             नगरा थाना क्षेत्र के नगरा गड़वार मार्ग के बछईपुर चट्टी के समीप गिट्टी बालू कारोबारी हीरामन यादव की 21 नवम्बर को तड़के बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी। इस घटना में थाना प्रभारी यादवेंद्र पांडे और एक उप निरीक्षक अखिलेश यादव को पुलिस अधीक्षक ने स्थान्तरित और लाइन हाजिर कर दिया। हालांकि घटना के तत्काल बाद सात आरोपियों में एक को पुलिस हिरासत में ले ली थी। दूसरे आरोपी को नवागत थानाध्यक्ष ने गिरफ्तार तो कर लिया किन्तु पांच आरोपी अब भी पुलिस के पकड़ से बाहर हैं।


इसी प्रकार नगरा बाजार स्थित पूर्व विधायक के पेट्रोल टँकी से 22 सितंबर को ट्रक चोरी हो गयी लेकिन आज तक पुलिस ट्रक की बरामदगी नहीं कर पायी।पूर्व विधायक सत्ता पक्ष के हैं।इसकी शिकायत पुलिस के आला अफसरों से भी कर चुके है बावजूद ट्रक पुलिस बरामद नहीं कर पायी।तीसरी घटना सरजापुर गॉव की है।23 सितम्बर को इस गॉव का युवक भूपेंद्र चौहान भीमपुरा थाना क्षेत्र के कसेसर बाजार गया था।जब देर रात तक घर नहीं पहुंचा तो परिजन तलाश शुरू कर दिए।पुलिस गुमशुदगी दर्ज कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया और आज तक युवक का पता नहीं लगा सकी।इन घटनाओं को लेकर क्षेत्र में पुलिस की किरकिरी हो रही है किंतु पुलिस पर कोई असर नहीं है। नवागत थानाध्यक्ष इन घटनाओं के राजफाश के प्रति कितने गम्भीर है, यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

                              


 रिपोर्ट  संतोष द्विवेदी

No comments