Breaking News

बलिया में दो दिनों से बंद हैं धान क्रय केंद्र, अधिकारियों नहीं है खबर



मनियर, बलिया । धान क्रय केन्द्र साधन सहकारी समिति पिलूई पर बोरा व धान की आवक का आभाव दिखाकर केंद्र कर्मियों द्वारा नोटिस चस्पा कर दो दिनों से क्रय केन्द्र पर ताला लटका दिया गया है। क्रय  केन्द्र पर ताला लटकने से किसान दर दर की ठोकर खाने को मजबूर है। जबकि प्रभारियो द्वारा उच्चाधिकारियों को बोरे के अभाव में ताला लटकने की जानकारी तक नहीं दी गयी है।  किसानों के हित में सरकार लाख प्रयास कर रही है, लेकिन नौकरशाह और कर्मचारी अन्नदाता को छलने से बाज नहीं आ रहें। जिलाधिकारी के प्रयास  के बाद भी किसानों की परेशानीयां दूर होती नहीं दिख रही है। क्षेत्र में धान की खरीददारी नहीं होने के कारण अन्नदाता औने-पौने दाम में अपनी उपज के धान को बेचने के लिए मजबूर है।




बता दें कि किसानों की सुविधा से धान बेचने के लिए पीसीएफ द्वारा संचालित साधन सहकारी समिति पिलूई को धान क्रय केंद्र बनाया गया है। किसानों ने आनलाईन आवेदन कर सत्यापन की कापी क्रय केन्द्र पर उपलब्ध कराकर टोकन लेकर अपनी पारी का ईन्तजार करने लगे। जब किसान अपना धान लेकर गोदाम पर पहुंचे तो दो दिन से केन्द्र प्रभारी द्वारा गोदाम पर ताला लटकाकर नोटिस चस्पा कर दी गई कि जब तक धान की  डिलिवरी नहीं होती व क्रय केंद्र पर बोरा उपलब्ध नहीं होगा। तब तक धान की खरीद नहीं की जायेगी। टोकन के हिसाब से जब किसान अलगू तुरहा, दिनेश भागीपुर व संजीव वर्मा पिलूई, विजय तिवारी, हरिशंकर, देवेन्दर मनियर अपना धान लेकर पहुंचे तो वहां पर लटके ताला को देख मायूस होकर वापस गए। लौटते वक्त किसानों ने बताया कि खेती की बुआई व लगन का समय है। इस वक्त पैसे की सख्त आवश्यकता है। सरकार ने दावा किया था कि किसानों के पैसे बहतर घंटे में खाते चला जायेगा  लेकिन गोदाम पर ताला लटका है तो मजबूरन अब क्रय केंद्र की आशा छोड़ औने पौने दाम में धान बेचकर अपनी खेती की खर्चे की आवश्यकता को पूरा करेंगें। इस संबंध में एसडीएम बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्य ने बताया कि क्रय केंद्र किस परिस्थिति में बन्द है। हमें इसकी सूचना नही दी गई है। जांच कर उचित कारवाई होगी।






रिपोर्ट  राम मिलन तिवारी

No comments