Breaking News

अर्न्तराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस : हम अपने अधिकारों के साथ-साथ कर्तव्यों के प्रति भी जागरुक रहे: डा० प्रवीण सिंह


रतसर (बलिया) मानवाधिकार दिवस मनाने का मकसद लोगों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है। मानवाधिकार में स्वास्थ्य,आर्थिक, सामाजिक और शिक्षा का अधिकार भी शामिल है। मानवाधिकार वे मूलभूत अधिकार है जिनसे मनुष्य को नस्ल,जाति, राष्ट्रीयता, धर्म, लिंग आदि के आधार पर प्रताड़ित नही किया जा सकता और उन्हें देने से वंचित नही किया जा सकता। उक्त बातें कोविड -19 महामारी से पैदा हुई स्थिति के मद्देनजर इस साल मानवाधिकार दिवस की थीम " फिर से बेहतर - मानव अधिकारों के लिए खड़े हो जाओ" के अवसर पर गुरुवार को स्थानीय दुलेश्वरी सुखदेव डीएस मेमोरियल गर्ल्स डिग्री कालेज के सभागार में आयोजित गोष्ठी में छात्राओं को संबोधित करते हुए विद्यालय के उप प्रबन्धक डा० प्रवीण सिंह ने कहीं। उन्होनें बताया कि हम अपने अधिकारों के साथ-साथ अपने कर्तव्यों के प्रति भी जागरूक रहे, क्योंकि अधिकार और कर्तव्य दोनों एक दूसरे से जुड़े हुए है। इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डा० चन्दन, डा० लाल साहब पटेल, अर्चना सिंह, मृत्युन्जय प्रसाद, विनय सिंह, संजय तिवारी, प्रशान्त सिंह सहित शिक्षक एवं छात्राएं मौजूद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments