Breaking News

> > >

गुरबत में जीने वालों को जो मदद करे वही असली इंसान है: अम्बिका चौधरी

रतसर (बलिया) कस्बा क्षेत्र के राजगुरू भवन में शनिवार को जनऊबाबा साहित्यिक संस्था निर्झर एवं अध्यात्मिक संस्था निकुंज के संयुक्त तत्वाधान में अध्यात्मवेत्ता गुरू पं० भरत पाण्डेय की पत्नी गायत्री देवी की छ्ठवीं पुण्य तिथि पर काशी क्षेत्र से पधारे विप्रों द्वारा पूजन के बाद उ०प्र० सरकार के पूर्व मन्त्री एवं बसपा के वरिष्ठ नेता आम्बिका चौधरी के हाथों 351 कम्बल का वितरण किया गया तथा भण्डारे का आयोजन कर श्रद्धांजली दी गई। वरिष्ठ पत्रकार गोपाल जी निर्भय ने कहा कि इस तरह के आयोजन से समाज में शोषित एवं उपेक्षित तबके को राहत मिलेगी वही परिवार वालों को हर साल माताजी का अप्रत्यक्ष रुप से स्नेह व आशीर्वाद प्राप्त होता रहेगा। ब्राह्मण स्वयंसेवक संघ के जिलाध्यक्ष राजेश कुमार मिश्र ने कहा कि जीवन पर्यन्त माता गायत्री देवी शोषितों व गरीबों की आवाज उठाती रही तथा इनकी आवाज को शासन प्रशासन तक पहुंचाने में पुत्र गोपाल जी निर्भय ने अपनी लेखनी के माध्यम से अहम भूमिका निभाते रहे। विशिष्ठ अतिथि भाजयुमों के विधानसभा संयोजक पियुष प्रताप सिंह ने श्रद्धांजली देते हुए कहा कि गरीबों को ठंढ से बचाव हेतु कम्बल वितरण करना पुण्य का काम है। उन्होंने बताया कि अपने लिए तो सब जीते है लेकिन गुरबत में जीने वालों को जो मदद करे वही असली इंसान है। उनका सौभाग्य है कि गरीबों को सेवा करने का मौका मिला। कार्यक्रम की शुरुआत पूजन अर्चन के बाद व काशी से पधारे पंडितों द्वारा विधिवत शांति पाठ द्वारा सम्पन्न हुई।

इस अवसर पर श्री गणेश पाण्डेय "मंजुल", डीएस ग्रुप आफ एजुकेशन के एमडी श्री राजेन्द्र सिंह,अवधेश जी पाण्डेय, मनोज सिंह, शिवसागर सिंह, निप्पू सिंह, कल्लू यादव, संजय सिंह, सतीश उपाध्याय, ओमप्रकाश पाण्डेय, अमित यादव जिला पंचायत सदस्य मौजुद रहे।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments