Breaking News

> > >

सुखपुरा-रतसर नहर मार्ग का जल्द होगा कायाकल्प, पदयात्रा के दौरान स्वतन्त्र प्रभार मन्त्री उपेन्द्र तिवारी ने की घोषणा


रतसर (बलिया) सरकार आपके कार्यक्रम के तहत क्षेत्रीय विधायक व राज्यमन्त्री स्वतंत्र प्रभार उपेन्द्र तिवारी सोमवार की सुबह फेफना विधानसभा के अराजी मुत्तवक्खीपुर, पचखोरा,पिपरा,धनौती धूरा,धनौती सलेम,नूरपुर व तपनी गांव पहुंचे। पदयात्रा के दौरान उन्होंने घर-घर जाकर जनता की समस्याओं की जानकारी ली। मौके से ही सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को त्वरित समाधान के लिए निर्देशित किए। गांव के लोगों से पुछा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन हो रहा है कि नही। पदयात्रा के दौरान  पूर्व शिक्षक श्रीकान्त पाण्डेय के निधन पर जनऊपुर गांव पहुंचकर परिजनों से मिले और परिवार के लोगों को सांत्वना दिया। इसी दौरान ग्रामीणों न सुखपुरा - रतसर नहर मार्ग के बदहाल स्थित के बारे में पूछा तो उन्होनें ग्रामीणों को बताया कि वर्षों से उपेक्षित इस सड़क का कायाकल्प बदलने जा रहा है। आप सभी को जनऊबाबा की धरती से घोषणा करता हूं कि तीन माह के अन्दर आठ किमी के इस सड़क का निर्माण पीडब्लूडी विभाग से 25.50 करोड़ की लागत से जल्द ही भूमि पूजन का कार्य करूंगा। साथ ही क्षेत्रीय किसानों से अपील किया कि जो खेत आपकी सड़क में आएगा उसका उचित मुवावजा सरकार आपको देगी। इस घोषणा से ग्रामीणों के साथ क्षेत्रीय लोगों में खुशी की लहर दौड़ गईIअन्त में देर शाम बाराबांध गांव में आयोजित चौपाल के दौरान जनता की समस्याओं को सुना। उन्होंने सभी फरियादियों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि हर एक की समस्या का त्वरित निस्तारण होगा। इसके लिए वहां उपस्थित अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए। उन्होंने जनता से आह्वान किया कि सभी योजनाओं के प्रति जागरूक होकर उसका लाभ ले। इस अवसर पर जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ ही उपेन्द्र पाण्डेय, कृपाशंकर तिवारी, टुनटुन उपाध्याय, पिन्टू पाठक, विजय गुप्ता, डा० मदन राजभर, राजेन्द्र तिवारी सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments