Breaking News

बिहार के इस डॉक्टर का बंद हो गया था शौच, जाने कैसे दूर हुई बीमारी

 






बलिया:  इसे क्या कहेंगे आप, जब मेडिकल साइंस के रहनुमा स्वयं के इलाज में आधुनिक दवाओं को अक्षम मानते हुए खुद मां के दरबार में मत्था टेकते हैं और वहां मिले प्रसाद व औषधि के सेवन से न सिर्फ अपनी बीमारी दूर करते हो बल्कि उसका बखान भी करते हो.



बिहार प्रांत के भोजपुर जनपद के मदरसा गाँव निवासी डॉ गिरजा सिंह यादव लंबे समय से शौच ना होने की बीमारी से ग्रसित थे. उनका कहना है कि जब वह अंग्रेजी दवाओं का सेवन करते थे तो 3 दिन के उपरांत उन्हें शौच होता था अन्यथा वह परेशान रहते थे. ऊपर से शुगर का मर्ज दाद में खाज का काम कर रहा था.




किसी शुभचिंतक ने उन्हें पकड़ी धाम स्थित काली मंदिर का पता क्या बताया उनकी जिंदगी ही बदल गई. उन्होंने बताया कि मां के दर पर मत्था टेकने और वहां मिली औषधि का सेवन करने से न सिर्फ उनकी बीमारी जाती रही बल्कि अब प्रतिदिन आसानी से सुबह-शाम  शौच हो जाता है. इतना ही नहीं उनकी शुगर की बीमारी भी ठीक हो गई है और वह औरों की तरह की बिना कोई परहेज किए मिठाई से लगायत सभी खाद्य पदार्थों का सेवन कर रहे हैं.






डेस्क

No comments