Breaking News

> > >

उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने वाला है कृषि बिल:- मृत्युंजय तिवारी बबलू


बलिया : सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर बलिया नगर विधानसभा के हल्दी ढाले से बलिया तहसील मुख्यालय तक, दिल्ली में धरना दे रहे किसानों के समर्थन में ,वरिष्ठ सपा नेता मृत्युंजय तिवारी बबलू के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने दर्जनों ट्रैक्टरों पर राष्ट्रीय झंडा लगाकर किसान बिल के खिलाफ जमकर नारे लगाते हुए बलिया तहसील मुख्यालय पहुंचे। 

 इस दौरान मृत्युंजय तिवारी बबलू ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा सरकार के अहंकार के कारण आज देश का अन्नदाता संकट से जूझ रहा है।  कहा कि भाजपा सरकार की दमनकारी नीतियों के बदौलत किसानों के साथ - साथ पूरा देश त्राहिमाम कर रहा है।  कृषि बिल पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि यह बिल पूर्णतया किसान विरोधी है ,उक्त बिल से देश के बड़े पूंजीपतियों को प्रत्यक्ष रुप से लाभ पहुंचेगा।  उन्होंने बताया कि इस काले कानून से आवश्यक वस्तुओं के भंडारण से सरकार का नियंत्रण समाप्त हो जाएगा, जिससे जमाखोरों को प्रश्रय मिलेगा।  सरकार पूंजीपतियों और मुनाफाखोरो के हितों को आम आदमी के हितों से ज्यादा महत्व दे रही है। कहां की देश का अन्नदाता कई दिनों तक सड़कों पर रह कर सरकार से अपनी मांगों को मनवाने के लिए संघर्ष कर रहा है ,लेकिन देश के प्रधानमंत्री कुंभकरण की नींद सो रहे हैं। भाजपा सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के लोग किसानों की आय को दोगुना करने का वादा कर रहे थे ,लेकिन वर्तमान परिवेश में सरकार के किसान विरोधी फैसलों के कारण देश का अन्नदाता अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। किसान दो महीने से इस कड़ाके की ठंड में सड़कों पर बैठे हैं। उनकी बात नहीं सुनी जा रही है। यह देश ही नहीं पूरी दुनिया देख रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद ऐसा वातावरण नहीं देखा। केंद्र सरकार ने किसानों को नाजुक मोड़ पर ला कर खड़ा कर दिया   है।

इन कानूनों से किसान सहमत नहीं हैं, लिहाजा तीनों कृषि कानूनों को केंद्र सरकार रद्द करे।

इस मौके पर प्रमुख रूप से शशीकांत सिंह, आदर्श मिश्रा झब्बू ,भोला पांडे आजाद,सभाजीत यादव गुडडू, राजकुमार गुप्त, छोटू , धनु पांडे, कान्हा उपाध्याय ,धर्मेंद्र साहनी आदि लोग रहे।




रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments