Breaking News

> > >

गाड़ी के पीछे स्ट्रेचर बांधकर शव को घसीटते हुए ले गई पुलिस

 



रांची। झारखंड के रामगढ़ जिले में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है, जहां पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया हैष मंगलवार की देर रात राजकीय मध्य विद्यालय बलसगरा मोड़ फोरलेन के पास सड़क दुर्घटना में जान गंवाने वाले बाइक सवार सीसीएल कर्मचारी के शव को पुलिस ने अपनी गाड़ी के पीछे बांधकर स्ट्रेचर सहित घसीटते हुए ले गई। पुलिस की इस हरकत से स्थानीय लोग सकते में हैं।


सीसीएल तापिन में काम कर रहे रामेश्वर राम मंगलवार को ड्यूटी कर अपनी मोटरसाइकिल से हनुमान चौक गिद्दी ए स्थित अपने आवास लौट रहे थे। इसी दौरान बलसगरा मोड़ फोरलेन के पास ट्रक ने बाइकसवार को रौंद दिया, जिससे उनकी मौत हो गई। पुलिस ने क्षत-विक्षत शव को स्ट्रेचर पर लादकर उसे अपनी गाड़ी के पीछे टोचन कर थाने ले गई।

पुलिस के इस तरह से शव को लेकर जाते हुए जिसने भी रास्ते में देखा हर कोई हैरान रह गया। पुलिस ने बताया कि एंबुलेंस न होने के चलते ऐसा करना पड़ा। वहीं एंबुलेंस नहीं होने के मामले पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ. अशोक राम ने कहा कि जिला प्रशासन ने डेढ़ साल पहले शव वाहन उपलब्ध कराया था। लेकिन इसे चलाने के लिए कोई कोष उपलब्ध न कराया गया और न ही किसी चालक की व्यवस्था की गई है।


डेस्क

No comments