Breaking News

मां-बाप के दिखाए रास्ते पर चलना ही श्रेष्ठकर


दुबहर, बलिया : क्षेत्र के कछुआ रामपुर गांव स्थित कोयलावीर बाबा के प्रांगण में श्री लक्ष्मी नारायण महायज्ञ के में हो रहे प्रवचन  के दौरान  प्रवचन कर्ता साध्वी सीता सहचारी जी ने कथा  में श्री राम विवाह का वर्णन विस्तार पूर्वक किया। और उन्होंने कहा कि राम विवाह से हमे  सीख मिलती है कि बिना मां बाप के आज्ञा के विवाह या कोई भी कार्य नहीं करना चाहिए । उन्होंने बताया कि आज के परिवेश में ज्यादातर लोग अपने मां बाप का बातें नहीं मानते हैं, वह अपने विवेक के हिसाब से कुछ ऐसा कर भी कर लेते हैं जो कि बाद में वह पछताते हैं। जबकि कोई भी मां-बाप अपने संतान के लिए अच्छा ही सोचेगा तथा अपने संतान की भलाई के लिए ही कोई कार्य करेगा।  इसलिए किसी भी व्यक्ति को अपने मां-बाप का आदर करना चाहिए, तथा अपने मां-बाप के दिखाए हुए मार्ग पर ही चलना चाहिए। आयोजक दयाशंकर शास्त्री जी ने बताया कि कल दिनांक 23 जनवरी 2021 को भव्य भंडारे का आयोजन किया गया है इस मौके पर मैम शास्त्री के साथ-साथ मुख्य यजमान यशवंत सिंह व कार्यकर्ता गण के साथ अनिल यादव भी मौजूद रहे। भारी भीड़ की वजह से क्षेत्रीय पुलिस एसआई हरिशंकर मिश्रा आरक्षी वीरेंद्र दुबे व अन्य पुलिसकर्मी मौजूद रहे।


रिपोर्ट:-नितेश पाठक

No comments