Breaking News

महापुरुषों की प्रतिमाओं को स्वच्छ रखना ईश्वर का सानिध्य :जिलाधिकारी


बलिया : नगर के प्रमुख चौराहों पर स्थापित महापुरुषों तथा सेनानियों की मूर्तियों के आसपास प्रचार सामग्री चिपकाने तथा वहां व्याप्त गंदगी को लेकर बलिया के जिलाधिकारी श्री हरी प्रताप शाही ने कड़ी नाराजगी जाहिर की थी इसके साथ ही उन्होंने ऐसे स्थलों को साफ रखने के लिए नेहरू युवा केंद्र तथा एनएसएस आदि के स्वयंसेवकों  से अनुरोध किया था। 




जिलाधिकारी के आह्वान पर नेहरू युवा केंद्र की तरफ से नगर में लगी महापुरुषों की प्रतिमाओं को स्वच्छ करने के लिए समाजसेवा दिवस के अवसर पर  स्वच्छता प्रतियोगिता का आयोजन किया  गया।  जिसमें 10 टीमों ने प्रतिभाग किया।उक्त प्रतियोगिता में नेहरू युवा केन्द्र के राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक एवं विभिन्न युवा मंडल के सदस्य ,मुरली मनोहर टाउन डिग्री कॉलेज के सेवा योजना के स्वयं सेवक  तथा जननायक विश्वविद्यालय के एमएसडब्ल्यू के छात्रों ने   प्रतिभाग किया। 

इसी के तहत नेहरू युवा केंद्र बलिया के जिला युवा अधिकारी अतुल शर्मा के नेतृत्व में प्रतिभागियों के द्वारा नगर के कुंवर सिंह चौराहा, टीडी कॉलेज चौराहा, चित्तू पांडे चौराहा, सतीश चंद्र कॉलेज चौराहा ,कदम चौराहा,जगन्नाथ चौधरी की प्रतिमा, नया चौक जापलीन गंज ,चौक, एनसीसी तिराहा सागरपाली में स्थित गौरी भैया की प्रतिमा आदि स्थलों पर लगे महापुरुषों की प्रतिमाओं को साफ किया गया। स्वयं सेवकों ने हाथों में कपड़ा तथा झाड़ू लेकर प्रतिमाओं तथा उसके आसपास के परिसर को साफ किया।  इस दौरान उपस्थित लोगों से स्वच्छता को अपनाने का आह्वान भी किया गया। तथा उक्त स्थानों पर कोचिंग संचालकों तथा राजनीतिक दलों के लगे पोस्टरों को भी साफ किया गया।  

कुंवर सिंह चौराहे पर जिलाधिकारी ने कुंवर सिंह की प्रतिमा को स्वच्छ करते समय नेहरू युवा केंद्र की स्वयंसेविका नंदनी सिंह व उनकी टीम भगिनी निवेदिता के स्वयं सेवकों की हौसला अफजाई की। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा महापुरुषों के स्मारकों पर चस्पा पोस्टर को लेकर नाराजगी व्यक्त किया तथा नगरपालिका के अधिशासी अधिकारी को सम्बंधित कोचिंग संचालकों को नोटिस जारी करने का निर्देश दिया। 

इस मौके पर  जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने कहा कि स्वच्छता को अपने आचरण में इस तरह बसा लो कि वह आपकी आदत बन जाए।  कहा कि महापुरुषों तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के सम्मान को बनाए रखने के लिए उनकी प्रतिमाओं को साफ रखना नितांत आवश्यक है।  बतलाया की प्रतिमाएं सम्मान की प्रतीक होती है, हर चौक चौराहे पर किसी न किसी महापुरुष की लगी प्रतिमा हमें उनके कार्यों और बलिदान को याद कराती हैं।  कहा कि महापुरुषों की प्रतिमाओं को स्वच्छ रखना व अपने आसपास के परिवेश को साफ रखना ईश्वर का स्वभाविक सानिध्य है। इस दौरान जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि देश को स्वच्छ रखने की जिम्मेदारी युवाओं के कंधों पर है जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण आज की यह प्रतियोगिता है। 



नेहरू युवा केंद्र के जिला युवा अधिकारी अतुल शर्मा ने कहा कि ,महात्मा गांधी द्वारा चलाए गए स्वच्छ भारत अभियान के तहत आज हम सब को शपथ लेनी होगी कि हम अपने आसपास लगे महापुरुषों की प्रतिमाओं को उनके सम्मान में समय-समय पर साफ करते रहेंगे तथा उनके विचारों आदर्शों से प्रेरणा लेकर हम अपने जीवन में आगे बढ़ते रहेंगे।  कहा कि महापुरुषों सेनानियों ने अंग्रेजों से लड़कर मां भारती को गुलामी की जंजीरों से आजाद कराया ,अतः अब हम सब की नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि हम उनकी प्रतिमाओं को समय-समय पर साफ रखकर मां भारती की सेवा करते रहें। 

इसके साथ-साथ आसपास के क्षेत्रों में साफ सफाई करते हुए लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरुक करने का प्रयास किया गया।  साथ ही लोगों से आग्रह किया गया कि महापुरुषों की प्रतिमाओं को समय-समय पर स्वयं साफ करते रहे।

उक्त प्रतियोगिता को संपन्न कराने में डॉक्टर साहब दुबे ,डॉ अनिल सिंह,अपराजिता उपाध्याय का सहयोग सराहनीय रहा। 

इस मौके पर प्रमुख रूप से नगर मजिस्ट्रेट, नमामि गंगे के जिला परियोजना अधिकारी शलभ उपाध्याय, गुप्तेश्वर प्रसाद, अभिषेक राय ,नितेश पाठक,अमित गौतम, प्रियंका गुप्ता ,शालू सिंह ,हिमांशु पांडे ,अरविंद वर्मा ,प्रशांत पांडे, सत्यम् चौबे ,अनामिका वर्मा, सुनीता पाल ,सोनू देव यादव, राहुल यादव, देवेंद्र कुमार वर्मा, राजदीप सिंह, हिमांशु सिंह, अनुराग पटेल, प्रीतम , अभिनव, अनुभव तिवारी ,आदि लोग मौजूद रहे।


रिपोर्ट:-नितेश पाठक

No comments