Breaking News

> > >

मान अपमान से जो उपर उठ जाए वही हनुमान है: पं० सिद्धनाथ पाण्डेय



रतसर (बलिया) क्षेत्र के जनऊपुर गांव स्थित हनुमान मन्दिर के 6 वें स्थापना दिवस पर बुद्धवार को विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन हुआ। हनुमत सेवा ट्रस्ट के तत्वाधान में आयोजित इस कार्यक्रम में अखण्ड राम नाम संकीर्तन और हनुमान जी की विशाल प्रतिमा का षोड्सोपचार पूजन व अभिषेक किया गया। इसके बाद हनुमान जी की शोभायात्रा  ध्वजपताका के साथ धूमधाम से निकाली गई । शोभायात्रा बजरंग जू.हा.खिरौली, पुराना डाकघर, चिरैयाटोला, राजभर बस्ती होते हुए मन्दिर परिसर पर पहुंची। शोभा यात्रा में श्रद्धालु हनुमान जी का जयकारा लगाते ध्वजारोहण के साथ चलते रहे। मन्दिर परिसर में सायंकाल सुन्दरकाण्ड की चौपाइयों से संगीतमय प्रवचन हुआ। जिसमें कथावाचक पं० सिद्धनाथ पाण्डेय ने हनुमान जी की महिमा का बखान करते हुए कहा कि जो मान अपमान से उपर उठ जाए वही हनुमान है। यह गुण केवल रामभक्त हनुमान में ही था। मुख्य पुरोहित पं०परमहंस जी ने विधि विधान से हनुमान जी का पूजन अर्चन कराया। इस अवसर पर मानिक चन्द गुप्ता,उमेश चन्द पाण्डेय, राजदेव पाण्डेय, ओमप्रकाश पाण्डेय,श्रीनिवास पाण्डेय, अक्षय लाल गुप्ता, कुबेर नाथ पाण्डेय सहित सैकड़ो श्रद्धालु मौजुद रहे। साहित्यिक संस्था निर्झर के अध्यक्ष धनेश पाण्डेय द्वारा साधु सन्तों को अंगवस्त्र एवं माला पहनाकर स्वागत किया गया।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments