Breaking News

> > >

अखिल भारतीय किसान महासभा ने भागीपुर गांव के किसान पंचायत में सरकार के कृषि कानून के खिलाफ अपनी समर्थन जताया


मनियर (बलिया) केन्द्र सरकार द्वारा लागू किये गये कृषि कानून के खिलाफ अखिल भारतीय किसान महासभा ने गांव गांव में जाकर  किसानों के बिच  पंचायत के माध्यम से चलाये जा रहे जन जागरण अभियान के तहत बुधवार को भागीपुर गांव मे हुए किसान पंचायत में सरकार के कृषि कानून के खिलाफ अपनी समर्थन जताया, मुनि सिंह ने कहा कि भाजपा कि सरकार ने पुंजिपतियो के सामने घुटने टेक दिया है, देश के किसान दिल्ली के बार्डर पर इस कडाके की ठंड मे महिनो से अपने सवालों पर लड रहे है और इस आंदोलन में सैकड़ों किसान आंदोलन करते हुए मर रहे है और देश की निकंमी सरकार किसान आंदोलन को बदनाम करने में लगी है, अगर सरकार काले कानून को वापस नही लेगी तो देश के मजदूर किसान इस सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेंगे, मोदी सरकार ने देश की सभी सार्वजनिक संपत्ति को पुंजिपतियो के हवाले कर रही है, आंदोलन करने वाली ताकतों को आंदोलनजिंवी बता रहे है  हमारा देश आंदोलन के हि बल पर ही आजाद हुआ, और देश में जब जब सरकार तानाशाह और निरंकुश होती है देश की जनता आंदोलन के बल पर नकेल कसने का काम करते हैं, देश में लोकतंत्र कि ताकत ही आंदोलन है, किसान पंचायत कि अध्यक्षता जनार्दन सिंह ने किया, पंचायत में बशिष्ठ राजभर, मदन सिंह, जगदीश जी, विनय सिंह, छोटेलाल बर्मा, गुलाब जी, मुलायम यादव,पंकज यादव, हिरालाल, दीपक जी आदि लोग शामिल रहे।



रिपोर्ट राममिलन तिवारी


No comments