Breaking News

Akhand Bharat

अभी लापरवाही बिल्कुल नहीं है करना, एक बाद फिर पांव पसार सकता है कोरोना

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह

- त्योहारों और उत्सव की खुशियां मनाएं, पर जरूरी सावधानी भी अपनाएं

बलिया : कोरोना संक्रमण एक बार फिर से पैर पसार रहा है । विगत एक सप्ताह में अन्य प्रदेशों में तेजी से नए कोरोना संक्रमण के केस बढ़ते नजर आए हैं । ऐसे में लोगों को सतर्क रहना होगा। मास्क, शारीरिक दूरी का पालन अनिवार्य है । साथ ही संक्रमण के लक्षण नजर आने या किसी प्रकार की परेशानी महसूस होने पर तुरंत जांच कराएं, यह कहना है जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉo राजेंद्र प्रसाद का |

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि पिछले एक साल से हम सब कोरोना से उत्पन्न चुनौतियों और उसके खतरे का सामना कर रहे हैं। इन चुनौतियों से निपटने के लिए हम सब जिम्मेदार नागरिक बन गंभीरता से कोरोना प्रोटोकॉल के अनुसार सावधानी और बताए गए नियमों का पालन करते रहे । जनपद में कोरोना संक्रमण का फैलाव काफी हद तक कम हो गया था। लेकिन एक बार फिर से सक्रिय होता दिखाई दे रहा है। इसलिए अभी भी वक्त है मास्क एवं शारीरिक दूरी का पालन अनिवार्य रूप से सभी व्यक्तियों द्वारा किया जाए तथा सुरक्षा को देखते हुए भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचे।

कोरोना के नोडल अधिकारी/जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉo हरिनंदन प्रसाद ने कहा कि त्योहारों का सीजन भी शुरू हो रहा हैं। ऐसे में यदि आपके आसपास या आपके परिवार में कोई व्यक्ति बाहरी प्रदेश से आ रहा है तो उस व्यक्ति की कोरोना संक्रमण की जांच अवश्य कराएं अथवा उस व्यक्ति की सूचना  संबंधित सामुदायिक / प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सकों को एवं कोरोना कंट्रोल रूम में आवश्यक रूप से देना सुनिश्चित करें, जिससे संबंधित व्यक्ति का कोविड टेस्ट कराया जा सके एवं बचाव किया जा सके। त्यौहारों की खुशियां बरकरार रखने के लिए जरूरी हैं कि हर कदम पर कोरोना को लेकर पूरी सावधानी बरतें भीड़-भाड़ वाली जगहों व त्योहार संबंधित आयोजनों में जाने से बचें |

टीकाकरण के बाद भी सतर्कता जरूरी – 

नोडल ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीका लगाया जा रहा है। लेकिन इसका अर्थ कतई यह नहीं है कि महामारी से बचने की हितों को भूल जाएं । हमें यह बात भी समझनी चाहिए कि मास्क और शारीरिक दूरी कोरोना वायरस से बचने के लिए ही जरूरी नहीं, बल्कि इससे कई अन्य तरह की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

No comments