Breaking News

जिलाचिकित्सालय में बायोसेफ्टी व आरटीपीसीआर लैब की स्थापना, कोरोना जांच में आएगी तेजी

 


“हारेगा कोरोना - जीतेंगे हम” – राज्यमंत्री 

बलिया : कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए सरकार द्वारा लगातार  प्रयास किए जा रहे हैं । इस क्रम में बलिया नगर विधायक व उत्तर प्रदेश सरकार के संसदीय कार्य, ग्राम्य विकास राज्यमंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल जिला चिकित्सालय बलिया की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए निरन्तर प्रयासरत हैं। 

राज्यमंत्री के अनुरोध पर पिछले वर्ष कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए समीक्षा करने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनपद बलिया आए थे। राज्यमन्त्री के अनुरोध पर मुख्यमंत्री ने जिला चिकित्सालय बलिया का निरीक्षण किया था । उनके विशेष अनुरोध पर कोरोना संक्रमण की जांच में तेजी लाने के लिए  जिला चिकित्सालय में आरटीपीसीआर लैब की  स्थापना करने की  मुख्यमंत्री ने घोषणा की थी। इस क्रम में शनिवार को जिला चिकित्सालय बलिया में स्थापित बीएसएल-2 लैब (बायो सेफ्टी लैब) व मॉलिक्यूलर टेस्टिंग सर्विस सेंट्रल लैब (RT-PCR) का शुभारम्भ राज्यमन्त्री आनन्द स्वरूप शुक्ल द्वारा किया गया । 

इस दौरान  मौजूद मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ० बी०पी० सिंह ने बताया कि इस लैब से जनपदवासियों को  बड़ा फायदा होगा। यहां पिछले दो  दिन में  21 सैम्पल के टेस्टिंग से ट्रायल प्रारम्भ हुआ हैं एक सप्ताह बाद से 500 सैम्पल की जाँच व 15 दिनों बाद से 2000 प्रतिदिन सैम्पल की जांच हो सकेगी। पहले हमें सैम्पल एकत्रित कर वाराणसी के बीएचयू भेजना पड़ता था। जहां से रिपोर्ट आने में कभी-कभी काफी देर हो जाती थी। मगर अब यही जांच होकर त्वरित रिपोर्ट प्राप्त हो सकेगी जिससे हम सभी जनपदवासियों की ज्यादा से ज्यादा सेवा कर सकेंगे और इससे हमें कोरोना को हराने में बड़ी मदद मिलेगी।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ० राजेंद्र प्रसाद, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ०बी पी सिंह, आर०टी०पी०सी०आर० नोडल अधिकारी डॉ० मिथिलेश कुमार सिंह, डॉ० रितेश सोनी, नॉन मेडिकल माइक्रो बायोलाजिस्ट अंकित सिंह, लैब टेक्शनियन- कमलेश पाण्डेय, डीके तिवारी, अभिषेक वर्मा, अभिषेक कुमार सिंह, मजफहुर् अंसारी, डाटा ऑपरेटर विपिन कुमार, चन्द्रसेन नायक, समाजसेवी विशालसिंह एवं चिकित्सकगण आदि उपस्थित रहे ।



रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments