Breaking News

स्वास्थ्य विभाग की मेहनत लाई रंग, सैम्पलिंग एवं ट्रेसिंग से केस हो रहे कम

 


रतसर (बलिया) जनपद बलिया के देहात क्षेत्र में कोरोना संक्रमण फैलने के बीच स्वास्थ्य विभाग की टीम गांवों में आशंकितों की जांच में पसीना बहा रही है। सोमवार को स्थानीय से सीएचसी से स्वास्थ्य विभाग की टीम नूरपुर,एकवारी एवं घोसवटी गांव में कैम्प लगाकर 106 लोगों का आरटीपीसीआर एवं 56 लोगों का रैपिड एन्टीजन किट से जांच किया। हालांकि एन्टीजन किट में कोई पाजिटिव केस नही आया फिर भी स्वास्थ्य विभाग ने ग्रामीणों को संक्रमण से बचाव के प्रति गंभीर रहने को कहा। पिछले एक सप्ताह पूर्व में ग्रामीण इलाके में बड़ी संख्या में कोरोना केस सामने आ रहे थे लेकिन स्वास्थ्य विभाग की ट्रेसिंग एवं सैम्पलिंग रंग लाई अन्ततःग्रामीण इलाकों में संक्रमित केस की जांच कर पाजिटिव केसों का होम आईसोलेसन एवं ट्रेसिंग कर तत्काल चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराई गई। साथ ही नए संक्रमित केसों के परिजनों का आरआरटी टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर एक केस के परिधि में 25 से 30 लोगों की सैम्पलिंग कराई गई। सीएचसी प्रभारी डा० राकिफ अख्तर ने बताया कि जनपद से प्रति दिन 200 लोगों के सैम्पल करने का लक्ष्य मिला है उसके सापेक्ष हमारी स्वास्थ्य विभाग की टीम लक्ष्य के प्रति पुरी तरह जागरुक है। साथ ही गांव में निगरानी समिति के द्वारा जो सुचना मिल रही है वहां भी हमारी आरआरटी टीम एवं आशा कार्यकर्ता पहुंचकर केस की ट्रेसिंग, सैम्पलिंग एवं दवा किट का वितरण तत्काल प्रभाव से मुहैया करा रही है। सैम्पलिंग टीम में एलटी अजय कुमार सिंह, युसूफ अंसारी, एवं पर्यवेक्षक द्वय धनेश पाण्डेय एवं शिवजी यादव के साथ ही सम्बन्धित गांव की आशा संगिनी एवं आशा कार्यकर्ता मौजूद रही।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments