Breaking News

पुलिस को चकमा देकर मुडंन संस्कार जूटे सैकड़ों लोग



हल्दी, बलिया । पुलिस अधीक्षक बलिया द्वारा सोमवार के दिन पूर्ण लाकडाउन का फरमान जारी किए जाने के बाद भी लोग पुलिस को चकमा देकर मुंडन संस्कार के लिए गंगा नदी पर पहुंच गए, जिसकी भनक पुलिस को भी नहीं लगी।

        सोमवार के दिन पूर्ण लाकडाउन के आदेश के बाद स्थानीय पुलिस ने रविवार को ही क्षेत्र के मुख्य घाटों पर नाविकों को मना करते हुए माइक से प्रचार भी कराया था, वहीं सोमवार को गंगा घाटों पर चौकसी बढ़ा दी थी।सुबह से ही पुलिस अपने दल-बल के साथ कोरोना से बचने के लिए लोगो को गंगा घाटों पर जाने से रोकने का प्रयास करती रही।लेकिन लोग पुलिस से बचते हुए क्षेत्र के विहार घाट,चैनछपरा,जवहीं व हँसनगर गंगा घाट के पास पहुच गए।


वहां से लोग गाड़ी से उतर कर करीब दो से तीन किलोमीटर पैदल चल कर गंगा किनारे पहुंचे थे।वहां धीरे-धीरे मुंडन संस्कार के लिए पहुंची ये भीड़ हजारों की संख्या में तब्दील हो गयी।लोगों को इस भीड़ में कोरोना का कोई डर नहीं था।लोग आराम से बिना मास्क व सेनिटाइजर बैंड बाजा व नर्तकियों के साथ आ-जा रहे थे। और अपना-अपना  मुंडन संस्कार सम्पन्न कराया।लोगों की भीड़ इतनी अधिक थी कि क्षेत्र के हँसनगर स्थित हुलासो सती मंदिर पर मेला लगा हुआ था।चाट-छोले आदि की दुकाने लगी हुई थी। वहीं मुंडन संस्कार के लिए आने-जाने वाले वाहनों के चलते हल्दी ढाले पर जाम की स्थिति बनी रही। लेकिन पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। अगर यही स्थिति रही तो कोरोना जैसी महामारी से बचाव का सरकार व प्रशासन की कोशिश ब्यर्थ हो जायेगी। हमको इससे लम्बा जूझना पड़ सकता है।


रिपोर्ट एस के द्विवेदी

No comments