Breaking News

वारिश से उखड़ गई सड़कें, गड्ढों में भरा पानी, रतसर - अमडरिया खस्ताहाल सड़क की कहानी

 


रतसर (बलिया) रतसर - अमडरिया मुख्य मार्ग की खस्ताहाल स्थिति से आवागमन नारकीय हो गया है। पूरी तरह उखड़ चुके इस सड़क पर हल्की बरसात होने पर भी चारों तरफ कीचड़ जमा हो जाता है जिससे आवागमन के समय लोंगो को नारकीय स्थिति का सामना करना पड़ता है। गौरतलब है कि सड़क की ऐसी स्थिति दशकों पुरानी है। जब भी किसी जन प्रतिनिधि से इस सड़क को बनवाने की बात ग्रामीण करते है तो जनप्रतिनिधि हमेशा आश्वासन की घुट्टी पिलाकर निकल जाते है। हाल के दिनों में क्षेत्र के कई सड़कों का कायाकल्प हुआ लेकिन इस सड़क की सुधि किसी ने नही ली । इस सड़क से छतवां सिकरिया कलां और रतसड़ इकइल बाईपास मार्ग भी जुड़ा है। हजारों लोग बाजार करने रतसड़ सहित जिला मुख्यालय आते जाते है जिनको आवागमन के वक्त तमाम तरह की दुश्‍वारियां झेलनी पड़ती है। चार किमी. लंबे इस सड़क पर दो साल पहले अमडरिया के तरफ से पिचीकरण का कार्य कराया गया जो छतवां गांव के सिवान पर आकर कर बंद हो गया । बाकी सड़क को जल्द ही सीसी कराने का आश्वासन ग्रामीणों को मिला और ग्रामीण आज भी बाकी सड़क के सीसी होने का इंतजार कर रहे है।

लोंगो ने जिला प्रशासन सहित स्थानीय विधायक व राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए तत्काल सड़क को बनवाने की मांग की है।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments