Breaking News

ग्रामीण क्षेत्रों में बढाई गई सैम्पलिंग, घट गई कोरोना संक्रमण की दर

 


रतसर (बलिया) जिले में कोरोना संक्रमण का ग्राफ अब घट रहा है। प्रतिदिन आ रही लोगों की रिपोर्ट में संक्रमण दर एक  पखवारा पूर्व की अपेक्षा कई गुना घट गई है। जबकि राहत की बात है कि गांवों में जांच तो बढाई गई है लेकिन यहां भी मरीजों की संख्या में तेजी से कमी आ रही है। पिछले एक सप्ताह में हुई जांच की रिपोर्ट इस बात की पुष्टि कर रही है। जिले में कोरोना की दुसरी लहर का प्रकोप अब धीरे-धीरे कम होता नजर आ रहा है। शहरी इलाकों में संक्रमण कम होने पर ग्रामीण क्षेत्रों में जांच का दायरा बढाया गया था। मौजूदा समय में करीब 65 फीसदी नमूने ग्रामीण क्षेत्र से लिए जा रहे है। इसके लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर तैनात स्वास्थ्य टीमों को गांवों में घर - घर भेजकर अधिक से अधिक लोगों की जांच की जा रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण को लेकर राहत भरी खबर सामने आ रही है। अधिकांश सीएचसी क्षेत्र के गांवों में या तो संक्रमण के मामले सामने नही आ रहे है या इक्का - दुक्का लोग ही इसका चपेट में देखे जा रहे है। तेजी से सुधर रहे इन हालात को लेकर अब स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन ने भी राहत की सांस ली है। स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सा अधीक्षक डा० राकिफ अख्तर ने बताया कि रविवार को बारावांध,निहालपुर एवं एकवारी गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचकर 310 लोगों की कोविड -19 की जांच की। जिसमें आरटीपीसीआर से 191 एवं एन्टीजन रैपिड टेस्ट से 119 लोगों का सैम्पल लिया गया। एन्टीजन से जांच में कोई भी व्यक्ति पाजिटिव नही मिला जबकि आरटीपीसीआर जांच वाले लोगों का सैम्पल बीआरडी मेडिकल कालेज भेज दिया गया। बताया कि गांव में जांच करने जा रही टीमें लोगों को टीकाकरण करने के लिए प्रेरित कर रही है। सैम्पल जांच करने वाली टीमों में एलटी युसूफ अंसारी, अजय सिंह, फार्मा.अमित कुमार सिंह, दीपक एवं पर्यवेक्षक धनेश कुमार पाण्डेय मौजूद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments