Breaking News

Akhand Bharat

राज्यमंत्री ने 9 लाभार्थियों में बांटे 68 लाख का ऋण



- *एमएसएमई लोन मेला*


- *प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत दिए ऋण स्वीकृति-पत्र*


बलिया: प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत जिले के 9 लाभार्थियों को विकास भवन स्थित एनआईसी कक्ष में बुधवार को ऋण का स्वीकृति पत्र वितरित किया गया। बतौर मुख्य अतिथि संसदीय कार्य एवं ग्राम्य विकास राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने खादी ग्रामोद्योग विभाग के तीन तथा जिला उद्योग केंद्र के छह लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र दिया। लोन की सुविधा का लाभ लेने वाले लाभार्थियों को बधाई देते हुए रोजगार में सफल होकर आर्थिक उत्थान करने की शुभकामनाएं दी। बता दें कि लखनऊ में आयोजित एमएसएमई लोन मेला में मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम को जनपद स्तर पर एनआईसी कक्ष में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दिखाया गया।


इस अवसर पर राज्यमंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि प्रदेश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम यूनिट्स ने अच्छा काम किया है, जिसका नतीजा है कि देश की सबसे बड़ी आबादी वाला राज्य और सर्वाधिक युवा होने के बाद भी बेरोजगारी दर सबसे कम है। सरकार ने पूरी पारदर्शिता से युवाओं को रोजगार से जोड़ा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के स्पष्ट निर्देश ​है कि जिस प्रकार प्रदेश स्तर पर लोन मेला का आयोजन हुआ, उसी प्रकार जिले स्तर पर भी आयोजन हो। हम सबका प्रयास है कि अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार व स्वरोजगार से जोड़ा जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि पारदर्शी व सुविधाजनक तरीके से लोगों को लोन उपलब्ध कराया जाए।




*ऋण का उपयोग इन धन्धों में करेंगे लाभा​र्थी*


प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत जिला उद्योग केंद्र की ओर से रसड़ा निवासी राकेश श्रीवास्तव को पांच लाख रूपए रेडीमेड गारमेंट के लिए, नवानगर निवासी नवीन तिवारी को 25 लाख का ऋण इंटरलॉकिंग ईंट के धन्धे के लिए, बलिया शहर निवासी राणा यादव को पांच लाख आटा-चक्की उद्योग शुरू करने के लिए, माधोपुर रसड़ा निवासी अफजाल अहमद को दस लाख रूपए प्लम्बरिंग धन्धा के लिए मिला। इसके अलावा एक जनपद एक उत्पाद के तहत मुदासिर अंसारी व मकसूद अंसारी को कटिंग व टेलरिंग के लिए प्रशिक्षण व टूल किट का वितरण किया जा चुका है। इसी प्रकार खादी ग्रामोद्योग विभाग की ओर से मधु तिवारी निवासी सीताकुंड को तीन लाख रेडीमेड गारमेंट उद्योग शुरू करने के लिए तथा रामपुर असली, गड़वार निवासी संतोष सिंह व संदीप प्रजापति को दस-दस लाख का ऋण क्रमश: दोना—पत्तल मशीन लगवाने व सीमेंट ईंट उद्योग के लिए मिला है। इस अवसर पर डीएम अदिति सिंह, सीडीओ प्रवीण वर्मा, खादी ग्रामोद्योग अधिकारी रामसहाय प्रजापति व जिला उद्योग केंद्र के अधिकारी मौजूद थे।


रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments