Breaking News

रेवती को हाल्ट घोषित कर विस्तार कार्य ठप किये जाने से बढ़ा आक्रोश

 


रेवती (बलिया ) रेवती को हाल्ट घोषित कर विस्तार कार्य ठप किये जाने से लोगों में दिन प्रति दिन आक्रोश गहराता जा रहा है । छपरा बलिया रेल खंड के बीच सहतवार व सुरेमनपुर के बाद रेवती सर्वाधिक आय वाला स्टेशन है । जबकि इससे कम आय वाले स्टेशनों बकुल्लहा, बांसडीह रोड , मांझी व रिविलगंज में विस्तार कार्य जोर शोर से चल रहा है । इस सम्बन्ध में अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल रेवती , रेल रोको संघर्ष समिति तथा भाजपा नेता भोलो ओझा द्वारा रेल मंत्री सहित पूर्वोत्तर रेलवे के महा प्रबंधक को स्टेशन बरकरार रखने तथा विस्तार कार्य जारी रखने के सम्बन्ध में ज्ञापन प्रेषित किया जा चुका है । रेल रोको संघर्ष समिति के संयोजक लक्ष्मण पांडेय ने बताया कि रेवती कस्बा नगर पंचायत के साथ साथ ब्लाक मुख्यालय भी है । गंगा व घाघरा के तटवर्ती पचास से अधिक गांवों तथा ढाई लाख की आबादी का सीधा सम्बन्ध रेवती रेलवे स्टेशन से जुड़ा हुआ है । ऐसे में सूदरवर्ती प्रान्तों तथा महानगरों में कार्य करने वाले लोगों को बलिया ट्रेन पकड़ने आने जाने में अतिरिक्त समय के साथ व्यर्थ में पैसा खर्च होता है । कामरेड ओम प्रकाश कुंवर ने कहा कि पूरे देश में सन 42 के आंदोलन में 19 अगस्त को बलिया आजाद हो गया था किन्तु उसके चार दिन पूर्व 15 अगस्त को ही रेल पटरी उखाड़ कर सेनानियों ने रेवती को आजाद करा लिया था। आजादी से पहले के स्थापित ऐतिहासिक स्टेशन को हेरिटेज स्टेशन की जगह हाल्ट स्टेशन घोषित किया जाना सेनानियों का अपमान करने के सामान है । व्यापार मंडल के अध्यक्ष विरेन्द्र गुप्ता ने  कहा कि रेवती को ई से सी श्रेणी में करने के साथ , स्टेशन बरकरार रखने तथा बंद पड़े विस्तार कार्य को शुरू कराने के लिए जल्द ही आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जायेगी । 

-------------

नये रेलमंत्री से भेट कर स्टेशन बरकरार रखने के लिए करूँगा प्रयास - सांसद 

इस संबंध में सलेमपुर के सांसद रविन्द्र कुशवाहा ने बताया कि एक महिने पूर्व रेल मंत्रालय को स्टेशन बरकरार रखने के सम्बन्ध में लिखित ज्ञापन दे चुका हू। पुनः नये रेल मंत्री भेट कर स्टेशन का दर्जा बरकरार रखने तथा बंद पड़े विस्तार कार्य शुरू कराने का प्रयास करूंगा ।


पुनीत केशरी

No comments