Breaking News

कोविड के दौरान पर्दे के पीछे रहकर निभायी अहम भूमिका

   


रिपोर्ट : धीरज सिंह


- कोविड-19 की सूचना तंत्र प्रणाली में आईडीएसपी की  सराहनीय भूमिका 


बलिया : कोविड-19 के दौरान कई ऐसे कोरोना योद्धा रहे हैं जो पर्दे के पीछे रहकर अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं के सहयोग में दिन रात जुटे रहे, अब जनपद कोरोना मुक्त हो गया है फिर भी वह पूरी मुस्तैदी से अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं । कुछ इसी तरह की भूमिका में स्वास्थ्य विभाग की इंटीग्रेटेड डिसीज सर्विलांस प्रोग्राम (आईडीएसपी) की टीम रही , जो सूचना तंत्र को मजबूत करने के लिए अब भी 24 घंटे तत्परता से जुटी रहती है । टीम के सदस्य कोरोना सैंपल की स्थिति को पोर्टल पर अपलोड कर जिले से लेकर राज्य तक भेजते हैं । शासन से मिलने वाली सूचनाओं को अधिकारियों के माध्यम से संबंधित अधिकारियों तक पहुंचा रहे हैं ताकि कोरोना से संबंधित समस्याओं का समय से निस्तारण हो सके । इन्हीं की सूचनाओं पर पूरा तंत्र सक्रिय होकर कार्य कर रहा है । इसमें आईडीएसपी के तहत तैनात जिला डाटा मैनेजर की अहम भूमिका है । इनकी अगुवाई में  टीम सक्रियता से काम कर रही है। उन्होने बताया कि जनपद में हमारे साथ 15 लोगों की टीम भी पूरी कर्तव्यनिष्ठा से लगातार कार्य कर रही है।  इनमें पाँच डाटा ऑपरेटर सहित अन्य सहयोगी कर्मी हैं। मार्च 2020 से लगातार 8 से 10 घंटे ड्यूटी कर रहे मुरली मनोहर श्रीवास्तव की मेहनत और हौसले की स्वास्थ विभाग के सभी अधिकारी सराहना कर रहे हैं।

जिला डाटा मैनेजर (डीडीएम) मुरली मनोहर श्रीवास्तव का कहना है कि मौजूदा समय समाज के लिए अपनी जिम्मेदारियों को निभाने का है । स्वास्थ्य ठीक न रहने के बावजूद तत्परता से अपनी टीम के साथ  कार्य एवं उत्तरदायित्व बखूबी निभा रहे हैं। उन्होंने बताया कि अब तक लगभग 9.18 लाख लोगों की स्क्रीनिंग और 6.12 लाख लोगों सैंपलिंग की जा चुकी है। इसमें 21606 लोग कोरोना पॉज़िटिव मिले हैं और 21283 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि यद्यपि अब जबकि एक्टिव केस जनपद में शून्य हो गया है, फिर भी स्वास्थ्य विभाग अपने दायित्वों का निर्वहन पूर्ण रूप से कर रहा है।

No comments