Breaking News

Akhand Bharat

आठ माह से बन्द पड़ी है टंकी,शुद्ध पेयजल के लिए भटक रहे ग्रामीण


 



रतसर (बलिया):स्थानीय नगर पंचायत स्थित जल निगम की पानी की टंकी के बन्द हुए आठ माह हो चुके है। इसे चालू कराने के लिए ना तो नगर पंचायत गंभीर है और ना ही जल निगम विभाग इसके बारे में सोच रहा है। चार दशक पूर्वक लाखों की लागत से रतसर- नूरपुर मार्ग पर पानी टंकी का निर्माण उत्तर- प्रदेश जल निगम द्वारा कराया गया था इससे क्षेत्र के लगभग दो दर्जन गांवों की लगातार बेहतर जलापूर्ति पानी टंकी से हो रही थी। जैसे ही नगर पंचायत को पानी टंकी सुपूर्द की गई तबसे जलापूर्ति अस्त व्यस्त हो गई। भले ही सरकार हर घर नल का जल देने की बात कहती है लेकिन योजना को संचालित करने वाले अधिकारी व जन प्रतिनिधि की मिली भगत से योजना धरातल पर मूर्त रूप नही ले पाती। योजना का काम धरातल पर कोरम जैसा हो कर रह जाता है। सरकार द्वारा आमजनों के हित में चलाई जा रही नल जल योजना के तहत यहां घरों में लगे नल लोगों का मुंह चिढ़ाने का काम कर रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि नवरात्रि एवं रमजान का महीना चल रहा है। विगत आठ माह से जलापूर्ति ठप है इस संदर्भ में कई लोगों ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर व सम्पूर्ण समाधान दिवस में शिकायत दर्ज कराई है बावजूद इसमें कोई ठोस पहल नही हुआ। क्षेत्रीय लोगों ने इस संदर्भ में जिलाधिकारी से गुहार लगाई है।

जल निगम के अवर अभियंता आजाद मौर्या ने बताया कि जब से जल निगम की पानी टंकी को नगर पंचायत को सुपूर्द किया गया तब से अभी तक कोई बजट का प्राविधान न होने के कारण जलापूर्ति ठप पड़ी है। जैसे ही बजट आ जाता है तो पेयजलापूर्ति शुरु कर दी जाएगी ।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments