Breaking News

Akhand Bharat

अज्ञात कारण से लगी आग से चार परिवारों की एक दर्जन रिहायशी झोपड़ीयां जलकर नष्ट एक महिला झुलसी - गंभीर




रेवती (बलिया ): स्थानीय थाना क्षेत्र के छपरासारिव गांव में रविवार को दोपहर में अज्ञात कारणों से लगी आग से चार परिवारों की एक दर्जन रिहायशी झोपड़िया जल कर नष्ट हो । बली यादव की पत्नी विजया देवी (55)  निकलने के प्रयास में गंभीर रूप से झुलस गई । जिसे बलिया के लिए रेफर कर दिया । बली यादव की दो बछिया व दो बकरिया भी जल कर मर गई। संतोष यादव का 50 हजार रूपया भी जल कर नष्ट हो गया । 

रामपुर मसरिक गांव के सरयू के कटान से विस्थापित एक दर्जन  परिवार छपरासारिव गांव में बसे है । रविवार को दोपहर में अचानक बली यादव के घर से अज्ञात कारणों से आग की लपटने निकलनी शुरू हुई जो तेज पछुआ हवा के चलते आस पास के घरों में फैल गई। आग से घिर जाने पर उससे निकलने के प्रयास में वह गंभीर रूप से झुलस गई । आनन फानन में उसे एम्बुलेंस से सीएचसी रेवती पर भर्ती कराया जहां गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे बलिया के लिए रेफर कर दिया । आस पास के लोगो ने पम्पिंगसेट चलाकर काफी प्रयास के बाद आग पर नियंत्रण पाया । इस आग के चलते बली यादव , सुदर्शन यादव , संतोष यादव तथा कमलेश यादव चार लोगों की एक दर्जन रिहायशी झोपड़िया व घर गृहस्थी का सामान जल गया । बली यादव की दो बछिया व दो बकरी जल कर मर गई । आग लगी के समय परिवार के सदस्य खेतों में गेहूँ की कटिया करने गये हुए थे । पूर्व प्रधान मनोज यादव ने पीड़ित परिवारों को अहेतूक सहायता दिलाने की मांग जिला प्रशासन से की है ।


रिपोर्ट  पुनीत केशरी

No comments