Breaking News

Akhand Bharat

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस : गर्भावस्था की जटिलताओं की सही पहचान,सुरक्षित करे मां- बच्चे की जान


 


➡️ प्रसव पूर्व जांच के साथ- साथ परिवार नियोजन परामर्श भी जरूरी

➡️ स्वस्थ व संतुलित खान-पान के साथ आयरन की गोली लेने की दी सलाह


रतसर (बलिया)

स्थानीय सीएचसी पर शनिवार को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व दिवस मनाया गया। इस दौरान 62 गर्भवती महिलाओं की जांच की गई एवं उन्हें फल वितरण किया गया।  महिला चिकित्सक द्वारा ब्लडप्रेशर,वजन,शुगर, एचआईवी की जांच की और आयरन एवं कैल्सियम आदि दवाओं का वितरण किया गया।अधीक्षक डा० राकिफ अख्तर ने बताया कि हर माह की नौ तारीख को मनाए जाने वाला प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस पर गर्भवती को महिला चिकित्सकों द्वारा प्रसव पूर्व सभी जांच जैसे हीमोग्लोबिन,ब्लड प्रेशर, ब्लड टेस्ट,वजन व पेट से जुड़ी अन्य जांच की निःशुल्क सुविधाएं दी गई। इसके साथ ही लाभार्थियों को परिवार नियोजन के लिए परामर्श भी दिया गया। डा० अख्तर ने बताया कि गर्भावस्था के दौरान महिला को कम से कम चार बार प्रसव पूर्व जांच अवश्य करानी चाहिए। जिससे उन्हें उपयुक्त चिकित्सीय परामर्श मिलता रहे। चिकित्साधिकारी डा० अमित वर्मा ने कहा कि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने,गर्भवती की बेहतर स्वास्थ्य देखभाल, प्रसव पूर्व जांच एवं उन्हें समय पर उचित इलाज मुहैया कराने के लिए पीएमएसएमए दिवस प्रत्येक माह की नौ तारीख को मनाया जाता है। शनिवार को सीएचसी पर पहुंची गर्भवती महिलाओं को जांच के बाद उच्च जोखिम गर्भावस्था (एचआरपी ) वाली महिलाओं को चिन्हित किया गया और उच्च स्तरीय इकाई पर संदर्भित किया गया एवं निःशुल्क दवा,आवश्यक चिकित्सीय व पोषण परामर्श भी दिया गया । इस अवसर पर डा० सोफिया,स्टाफ नर्स गिरीश सिंह,इन्दू यादव, प्रीति पाण्डेय,बीपीएम आशुतोष सिंह,बीपीएम अनिल कुमार आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments