Breaking News

Akhand Bharat

तिरंगा घर से उतारें तो दिल मे बसाएं: जिलाधिकारी

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह


- *पूरे जिले में धूमधाम से मनाई गई स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ


बलिया: पूरे जिले में स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ धूमधाम से मनाई गई। जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने पहले अपने आवास पर, और उसके बाद कलेक्ट्रेट में झंडारोहण किया। इसके बाद उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं उनके आश्रितों को अंगवस्त्र व मिष्ठान देकर सम्मानित किया। 



कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित गोष्ठी को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने समस्त जनपदवासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि आज हम सब आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। आज हर घर पर तिरंगा का खूबसूरती नजारा दिख रहा है। उन्होंने जनपदवासियों से आवाह्न किया कि स्वतंत्रता दिवस के बाद इस तिरंगे को घर से उतार कर दिल में बसा लेना है।






उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई में बलिया अग्रणी भूमिका में रहा है। यहां से सम्मानित सेनानियों के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने आवाह्न किया कि जब हम आजादी की 100वीं वर्षगांठ मनाएं तो उस समय बलिया को विकसित जनपद के रूप में देखा जाए, ऐसा कार्य करने की प्रेरणा लें। जो जिस क्षेत्र में है, उस क्षेत्र में बेहतर  जनपद के युवाओं को बेहतर नागरिक बनने, बड़ा सोचने, बड़ा सपना देखने को प्रेरित किया जाए। अगर खेती ही करें तो वह उन्नति खेती कैसे करें, इसके लिए जागरूक करें। देशप्रेम की भावना के साथ ऐसा कार्य करें, जिससे देश उन्नति के पथ पर अग्रसर हो। 


सेनानी रामविचार पांडे ने आजादी की लड़ाई के उन दिनों का सजीव वर्णन किया। कलेक्ट्रेट कर्मी पतिराम ने देशभक्ति गीत गाकर सबके रोंगटे खड़े कर दिए। गोष्ठी में एडीएम राजेश सिंह, साहित्यकर शिवकुमार कौशिकेय ने भी अपने संबोधन में आजादी के महत्व से सम्बंधित बातों को साझा किया। कलेक्ट्रेट के समस्त स्टाफ और शहर के वरिष्ठ नागरिक गण उपस्थित थे।

No comments