Breaking News

Akhand Bharat

नशा दीमक की तरह हमारी संस्कृति व सामजिक ताना-बाना को अंदर से खोखला कर देती है : सक्षम पाण्डेय

 



रतसर (बलिया) परशुराम युवा मंच के तत्वाधान में बृहस्पतिवार को हनुमत सेवा ट्रस्ट जनऊपुर के परिसर में नशा मुक्ति अभियान के तहत युवाओं को नशा नही करने की शपथ दिलाई गई। इस अवसर पर परशुराम युवा मंच के अध्यक्ष सक्षम पाण्डेय "रिशु " ने नशे की सभी बुराइयों का जड़ बताया। कहा कि इससे व्यक्ति ही नही उसका पूरा परिवार प्रभावित होता है। नशा किसी भी प्रकार का हो वह नशा अपने परिवार को अपने पड़ोस को अपने समाज को खत्म करने की ओर ले जाता है। इसलिए हमें समाज में इस जागरूकता अभियान को मजबूती के साथ चलाना है। युवा मंच के महामंत्री आशीष मिश्रा ने कहा कि नशा उस दीमक की तरह है जो हमारी संस्कृति और सामाजिक ताना-बाना को अंदर-अंदर चाल देती है। इस लिए युवा वर्ग की जिम्मेदारी बनती है कि वह अपने परिवार के साथ-साथ पास पड़ोस को भी नशा करने से रोके और उन्हें नशा से होने वाले रोग और नुकसान के बारे में बताएं।इं०पवन पाण्डेय ने कहा कि नशीले पदार्थों के सेवन करने से विभिन्न प्रकार की बीमारियां जन्म लेती हैं। जिससे समाज में लोगों को शारीरिक और आर्थिक रूप से नुकसान उठाना पड़ता है। उन्होंने इसके दुष्प्रभावों पर विस्तार से प्रकाश डाला। इस अवसर पर विवेक पाण्डेय,सुमित,अमित, गौरव,प्रत्युष आदि मौजूद रहे।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments