Breaking News

Akhand Bharat

मेले में सेफ्टी नियम को ताक पर रख चल रहे हैं झूले




रसड़ा (बलिया)। रसड़ा में छोटी काशी के नाम से प्रसिद्ध मेला का आयोजन हुआ है जिसमें हजारों हजारों की संख्या में श्रद्धालु मेला देखने आते हैं और मेले का आनंद लेते हैं लेकिन इस मेले में सेफ्टी को लेकर कोई व्यवस्था देखने को नहीं मिली हम बात कर रहे हैं मेले में लगे झूलों की जिसमें बिना सेफ्टी क्लीयरेंस और बिना टेक्निकल जांच के ही झूले नियम को ताक पर रखकर धड़ल्ले से चल रहे हैं जिसमें झूलो के पास कोई ऐसी व्यवस्था नहीं है जिससे किसी अचानक हुई घटना से निपटा जा सके।


 कई बार झूलों के टूटने झूले में करंट प्रवाहित होने से लोगों के घायल होने की घटना भी घटित हो चुकी है लेकिन लोगों की जान को जोखिम में डालकर झूला चलाना आखिर किसके आदेश से चल रहा है वही लोगों की माने तो झूले में आवश्यकता से अधिक लोगों को भी बैठाया जा रहा है जिससे बड़ा हादसा हो सकता है लेकिन जिम्मेदार अपनी आंखें बंद कर कुंभकरण निद्रा में सोए हुए हैं।  अगर कोई घटना होती है तो उसका जिम्मेदार कौन होगा यह बताने वाला कोई नहीं है जब मेला कमेटी के अध्यक्ष से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मेले में सारी व्यवस्था है लेकिन लोगों की सुरक्षा को लेकर कोई खास व्यवस्था नहीं दिखी वहीं उप जिलाधिकारी से जानकारी लेने के लिए फोन किया गया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया अब देखना यह है कि मेले में आ रहे लाखों श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर व्यवस्था की जाती है या राम भरोसे रहेगी नागरिकों की सुरक्षा।


रिपोर्ट नेहाल अख्तर

No comments