Breaking News

Akhand Bharat

बहादुरपुर कारी मुर्ति विवाद : प्रधान की पत्नी ने फर्जी मुकदमा की उच्चस्तरीय जांच की मांग की

 


रतसर (बलिया) गड़वार थाना क्षेत्र के बहादुरपुर कारी गांव के पुरवा खेदूरा में छठ घाट पर मुर्ति रखने को लेकर हुए बवाल के बाद से प्रशासन द्वारा ग्राम प्रधान जुगुल किशोर यादव को मुजरिम बनाए जाने और उनके पट्टीदारों के दरवाजा तोड़े जाने की घटना को सरासर गलत ठहराते हुए प्रधान पत्नी ललीता देवी ने कहा कि छठ घाट पर मुर्ति रखने में मेरे पति की कोई भूमिका नही है और न ही इस विषय में कोई जानकारी है। पुलिस नजायज तरीके से हमारे घर का मुख्य दरवाजा तोड़कर घर में घुस गई और हमारे घर के अन्य दरवाजा तोड़ने के साथ-साथ हैन्ड पाइप का हैंडल तोड़ दिया गया। हमारे पड़ोसी जमुना यादव,संतोष यादव का सीएससी ( जनसेवा केन्द्र ) का ताला तोड़कर तांडव मचाते हुए फर्जी तरीके से मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। इस घटना की उच्चस्तरीय जांच कर फर्जी मुकदमा हटाने की मांग की है। बताते चले कि छठ घाट पर हनुमान जी की मुर्ति विवाद को लेकर ग्राम प्रधान जुगुल किशोर यादव,मनजीत वर्मा,राजेन्द्र यादव,बेचु राम, कार्तिक वर्मा,संजय वर्मा एवं विजय वर्मा को गिरफ्तार कर न्यायालय चालान कर दिया गया है जब कि 34 लोगों पर नामजद एवं 40 लोगों पर अज्ञात मुकदमा दर्ज कर पुलिस कार्यवाही में जुटी हुई है।



रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments