Breaking News

Akhand Bharat

श्रेष्ठ महापुरुष जो भी आचरण करते है,सामान्य पुरुष उसी का अनुसरण करते है : अरुण कुमार शुक्ला


 



रतसर (बलिया):जनऊबाबा साहित्यिक संस्था निर्झर के तत्वाधान में सोमवार को हनुमत सेवा ट्रस्ट परिसर में ज्योतिष शास्त्र के प्रकांड विद्वान पं० सिद्धनाथ पाण्डेय की प्रथम पुण्यतिथि बड़ी ही सादगी के साथ मनाई गई। इस अवसर पर राजनीतिक तथा सामाजिक लोगों ने सैकड़ों की संख्या में उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित कर अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि दी। वहीं पंडित जी के जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए भावपूर्ण स्मरण किया। सोमवार को जनऊपुर गांव स्थित हनुमत सेवा ट्रस्ट के परिसर में पंडित जी की प्रथम पुण्य तिथि मनाई गई। सुबह दस बजे से ही सुन्दर कांड पाठ के साथ ही हवन एवं पूजन कराया। जिसमें महिलाओं सहित बड़ी संख्या में राजनीतिक तथा सामाजिक लोगाें ने भाग लिया और पूर्ण आहुतियां दी गई। तत्पश्चात श्रद्धांजलि देने का दौर देर शाम तक चलता रहा। पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शिवपुर इंटर कालेज के प्रधानाचार्य अरुण कुमार शुक्ला ने कहा कि श्रेष्ठ महापुरुष जो भी आचरण करते है ,अन्य सामान्य व्यक्ति उसी का अनुसरण करते हैं। पंडित जी अपने अनुसरणीय कार्यों से जो आदर्श स्थापित किया, हम सभी को उसका अनुसरण करना चाहिए। ज्येष्ठ पुत्र इ०तारकेश्वर पाण्डेय ने कहा कि बाबूजी हम सबके प्रेरणास्रोत थे। उन्होंने निरंतर सामाजिक जीवन में सूचिता और ईमानदारी के साथ काम किया। साथ ही पांडित्य कला के क्षेत्र में विविध आयाम हासिल किया । कहा कि बाबूजी भले ही आज हमारे बीच नही है लेकिन वह हमेशा ही हमारे दिलों में जिंदा रहेंगे। श्रद्धांजलि कार्यक्रम में ध्रूव जी शुक्ला,के.के. पाण्डेय, विद्यासागर पाण्डेय,धनन्जय पाण्डेय, पूर्व प्रधान राजेश पाण्डेय, राजेन्द्र प्रसाद पाण्डेय, मारकण्डेय पाण्डेय, करीमन राम आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments