Breaking News

Akhand Bharat welcomes you

बंदरो के आतंक से दहशत में जी रहे नगर वासियो को मिली राहत

 


मनियर, बलिया ।  नगर पंचायत में बंदरों के आतंक से खौफ में जी रहे नगरवासियों को  बुधवार को राहत की शास तब मिली जब बिहार से पहुची सात सदस्यी टीम ने चार खूंखार बंदरों को पकड़ने जाने के बाद पिजरे कैद किया । बतादे कि करीब एक एक सप्ताह से बंदरो के आतक इतना फैला था कि लोगो को दौडा दौडा कर काटते थे उनके आतंक से लोग घर में दीन रात दुबके हुए थे इसकी खबर पेपर में लगातार प्रमुकखता से छपती रही ।

बुधवार की सुबह मैरवा जनपद सिवान बिहार से पहुंची सात सदस्यीय टीम में कड़ी मशक्कत के बाद बंदरों को पिंजड़े में कैद कर लिया कहा कि  प्रशासन के सहयोग से छोड़ा अन्यत्र जगह छोडा़ जाएगा। 

ज्ञात हो कि करीब दस दिनों से नगर में बंदरों का आतंक इस कदर बढ़ गया था कि मनियर कस्बा निवासी शिक्षक कमलेश कुमार सिह 45 वर्ष, सुनीता कुमारी 25वर्ष पुत्री श्री राम तुरहा ,प्रेम लता देवी ,शैल देवी ,राजु तुरहा, इश्तियाक अहमद ,रमेश कुमार सहित  करीब एक दर्जन लोगों को काट कर घायल कर दिया था। जिसमे सुनीता को 80टांका लगा था । बंदरो से भयभीत  नगरवासियों ने उपजिलाधिकारी बांसडीह व ईओ से लिखित व दूरभाष पर बार बार  शिकायत कर बंदरों के आतंक से निजात  दिलाने की बात कर रहे थे।

शिकायत पर चेयरमैन प्रतिनिधि संकल्प सिंह ने बंदरों को पकड़ने वाली टीम से सम्पर्क कर बुलाया व बुधवार को पहुची टीम ने ग्रामीणो के सहयोग से  चार खूंखार बंदरों को पकड़वाया। पकड़ने के बाद नगरवासियों ने राहत की सांस ली। 

बंदर पकड़ने वाली टीम में शहाबुद्दीन, मकसूद, नसरूदीन, एहसान अली, साहिल, इस्तियाक अली, इंतियाज अली रहे। इस संमबन्ध में पुछे जाने पर ई ओ मनियर मनोज पाण्डेय ने बताया कि बिहार कि टीम बुलाकर बन्दरो को पकड़वाया जार रहा है  उनके आतंक से  नगर पंचायत को मुति दिलायी जायेगी ।


प्रदीप कुमार तिवारी

No comments