Breaking News

सिलेन्डर विस्फोट से लगी आग में 30 परिवारों की पांच दर्जन से अधिक रिहायशी झोपड़ियां जलकर नष्ट


रेवती (बलिया) स्थानीय थाना अंतर्गत जमधरवा गांव के लाली के डेरा के बीन व गोंड बस्ती में बुधवार को दोपहर में लगी आग से 30 परिवारों की पांच दर्जन से अधिक रिहायशी झोपड़ियां व घर गृहस्थी का सारा सामान जल कर नष्ट हो गया ।
गांव निवासी रघु के प्लानी की झोपड़ी से अचानक आग की लपटें निकलनी शुरू हुई । इसी दौरान घर में रखें सिलेंडर में विस्फोट होने से आग की लपटें पूरी बस्ती में फैल गई । आस पास के गांव के लोग ट्यूबवेल , नलकूप व हैन्डपम्प से आग बुझाने में लग गये । बाद में पहुंची फायर बिग्रेड की गाड़ी , स्थानीय थानाध्यक्ष शैलेश सिंह , एस आई परमानंद त्रिपाठी व गांव वालों के काफी मस्कत के बाद किसी तरह आग पर नियंत्रण पाया जा सका । खबर पाकर सी ओ बैरिया अशोक कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गये तथा घटना के बाबत जानकारी प्राप्त की । इस आग के चलते रघु , महेश , राधी बिन्द, हरिवंश , त्रिलोकी, कमलेश्वर, जीतन, सविता, संजोगिता, शनीचरी, मनसी, कन्हाई , मीरा देवी , कुसुम , संतोष गोंड आदि 30 लोगों के पांच दर्जन से अधिक रिहायशी झोपड़ियां व घर गृहस्थी का सारा सामान जल कर नष्ट हो गया । पीड़ित परिवार शिवपुर सिरसिया के घाघरा के कटान से विस्थापित हो लाली के डेरा में बसे है । पीड़ित परिवार खुले आसमान के नीचे आ गये है। पूर्व जिला पंचायत सदस्य डाॅ पुरुषोत्तम यादव द्वारा पीड़ित परिवारों के लिए प्लास्टिक व अन्य राहत सामग्री की ब्यवस्था की गई हैं ।



रिपोर्ट : पुनीत केशरी

No comments