Breaking News

दरअसल मेरी कलम भी समझती है मेरे जज्बात को, कम्बख्त ईश्क भी लिखता हूँ तो इन्कलाब लिख देती हैं


रसड़ा (बलिया)आज के दौर में जब सभी लोग खुद की सुरक्षा के लिये हर कदम सोच समझकर उठा रहें है कोरोना के ङर से  अपने पराये, पराये अपने हो गये, हर तरफ तबाही है!  कदम कदम पर खतरा है हर तरफ सन्नाटा पसरा है! ऐसे में जान को हथेली पर रखकर घर परिवार को छोङकर  लोगो के दुखदर्द को अपना फर्ज समझकर लोगों के बीच में खबरों को पहुँचाने का काम बेखौफ कर रहा अखण्ड भारत न्यूज़ संवाददाता न कोराना का ङर न जिन्दगी से मोह बस समाज सेवा का जज्बा मन में उल्लास लिये सुबह से शाम तक  खबरों को दुनियाँ के सामने परोशता है।स्कूल बन्द हो गये! ट्रेन रद्द हो गयी! हवाई मार्ग बन्द हो गये। सिनेमा हाल बन्द हो गये। सार्वजनिक स्थल मेला हाट स्थल स्पाट सब बन्द हो गये। कोर्ट कचहरी मे बीरानी छायी है। सङको पर सन्नाटा है ।कैरोना को लेकर हर तरफ हताशा है! लेकीन पत्रकार कन्धे पर बैग हाथ में कैमरा लेकर जगह जगह लोगों की समस्याओं की खबर सरकार तक बे खौफ होकर जिन्दगी को दांव पर लगाकर दे रहा है।


उसके लिये समाज सेवा सर्वोपरि है। लोगो को सुबिधा मुहैया कराना उनको समुचित ब्यवस्था दिलाना अपना फर्ज समझता है।आप ने कहीं नहीं सुना होगा की कौरोना के डर से पत्रकारों का आफीस बन्द हो गया। टीबी चैनल बन्द हो गये सोशल मिङीया का मैसेज आना बन्द हो गया । जब लोग घरों में खौफ में जी रहें है तब पत्रकार दिन रात खोजी पत्रका रिता का जज्बा लिये सङको, गली, मुहल्लो, हास्पीटल में खाक झानता है।लोगो के बीच में सही खबर को परोसता है। आज खाकी खौफ में है।ऊद्योगपति सहमा है। नेता मास्क पहन कर बन्द गाङीयो मे सफर कर रहे है! अधिकारी कर्मचारी लाचारी में है! तब भी पत्रकार इस महामारी की खबर कबरेज कर रहा है।
 ऐसे में समाज का सजग प्रहरी पत्रकार। जान को जोखिम मे ङालकर दिन रात खबरों को बटोरने का कर रहा कारोबार ! यह जानते हुये की मौत सामने है फीर भी नहीं रुकता  समाज के दुरूह मामलों को उजागर करने में  निस्वार्थ अपना फर्ज निभाता है। गुंडा, मवाली, पुलिस की गाली के बावजूद पब्लिक की रखवाली करने का काम चाहे खुश रहे चाहे नाराज रहे सरकार। बेखौफ रहता  है पत्रकार। आज का दौर दहशत जदा जनता में जागरूकता फैलाने का लोगों को बचाने का है ।



यूपी के बलिया जनपद सहित जिलाधिकारी हरिप्रताप शाही के निर्देशानुसार कोरोना वायरस को देखते हुए साफ सफाई रखने के लिए निर्देश जारी किया गया इसके बावजूद रसड़ा सीएचसी पर गन्दगी का अंबार है मरीजों को छोडिये साहब डाक्टरों को मास्क सैनिटाइजर नहीं मिल रहा है ।वहीं इसका रियालिटी चेक संवाददाता ने सीएचसी सहित मेडिकल स्टोर पर किया मगर मास्क और सैनिटाइजर का कालाबाजारी चल रहां है ।
हालांकि पूरी खबर पर अधीक्षक विरेन्द्र कुमार से पक्ष जानना चाहा मग अधीक्षक नहीं मिले रसड़ा सीएचसी पर ।


रिपोर्ट : पिन्टू सिंह 

No comments