Breaking News

जिला अस्पताल में तैनात संविदा कर्मी पर्ची के नाम पर वसूली कर रहे है पैसा



बलिया। जिला अस्पताल में जहां एक तरफ कोरोना के डर, शहर में लाॅक डाउन में किसी तरह मरीज अस्पताल पहुंच रहे है। मरीजों को देखभाल करने के नियत से सीएमएस ने मरीजों को दवा भी उपलब्ध करा रहे है। वहीं दुसरी तरफ अस्पताल में तैनात संविदा कर्मी पर्ची के नाम पर पैसा वसूली कर रहा है। जबकि अस्पताल प्रशासन द्वारा लाल पर्ची फ्री है। सीएमएस को जानकारी होते ही संविदा कर्मी को पर्ची काउंटर से हटा दिए। और उसपर कार्यवाही करने को कहां लाॅक डाउन के बाद जहां जरुरी संसाधनों को छोड़ कर सभी कार्यालय को बंद कर दिया गया है। जबकि लोगों के सुविधाओं के लिए सभी चिकित्सक लाॅक डाउन के बाद भी सीएमएस चेम्बर में बैठ मरीजों का उपचार कर रहे है। वहीं मरीजों को दवाईया भी उपलब्ध कराई जा रही है। ऐसे मे एक संविदा कर्मी ठीक चेम्बर के बगल में बैठ कर तीन दिन से पर्ची के नाम पर एक रुपये से लगाय दस रुपए तक वसूली कर रहा है पकड़ में तब आया जब एक मरीज के तीमारदार के पास छुट्टे पैसे नहीं थे उससे उलझ गया मरीज के तीमारदार ने इसकी जानकारी सीएमएस को दे दिया उन्होंने तत्काल उसे वहा से हटा दिए। और एक अन्य कर्मचारी को पर्ची काटने के लिए लगा दिए है।

सीएमएस डाक्टर बीपी सिंह ने बताया कि इमरजेन्सी ब्यवस्था में मरीजों का उपचार कराया जा रहा है उसी दौरान मरीजों को कोई दिक्कत ना हो इसके लिए इमरजेन्सी से पर्ची मंगवा कर पर्ची काटने के लिए डाटा मैनेजर मनोज कुमार से काम लिया जा रहा था पैसा लेने कि शिकायत पर उसे हटा दिया गया। आगे भी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने ने यह भी कहा की जो मरीजों की भीड़ बाहर लग रहीं है वह सोमवार से दो नम्बर और तीन नम्बर ओपीडी में तीन-तीन डाक्टर बैठेंगे जिससे दुरी मेंटेन रहेंगी।


रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments