Breaking News

> > >

घर पहुचे 14 दिन बाद क्वॉरेंटाइन हुए लोग



हल्दी, बलिया । स्थानीय थाना क्षेत्र के समरथपाह गांव निवासी सात पुरुष,एक महिला व दो बच्चियों जो बाहर से आये थे।उनको कोरोना का संदिग्ध मानकर पूर्व माध्यमिक विद्यालय समरथपाह पर बने क्वॉरेंटाइन केंद्र पर रखा गया था जहां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनवानी के अधीक्षक  डॉ मुकर्रम अहमद के देखरेख में नियमित चेकअप किया गया।उनके 14 दिन बीतने के बाद इन युवकों को घर जाने की इजाजत चिकित्सकों ने दे दी। बताते चलें कि कोरोना महामारी को लेकर के पूरे देश में  लॉक डाउन किया गया है।बाहर कमाने गये थे।लाकडाउन होने पर कोरोना के डर से वहाँ से किसी तरह 30 मार्च को गांव चले आये।इनके आने पर समरथपाह प्रधान मुकेश चौधरी ने इसकी सूचना पुलिस को दी । सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनवानी के अधीक्षक  डॉ०मुकर्रम अहमद व डॉ प्रवीण यादव की टीम ने स्वास्थ्य परीक्षण करने के बाद क्वॉरेंटाइन केंद्र में 14 दिनों तक रखा गया। जांच के बाद रविवार को उनको को घर जाने की सलाह चिकित्सकों ने दे दी। साथ ही चिकित्सकों ने सभी क्वॉरेंटाइन किये गये लोगो को कोरोना महामारी के बारे में समझाया तथा उनको अपने घर पर भी सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये घर के अंदर ही रहने की सलाह दी।क्वॉरेंटाइन हुये लोगो मे समरथपाह निवासी सुग्रीव कुमार,सुनैना देवी,कुमारी शिवांशी, पिन्टू,कुमारी बिट्टू,मंजय, संजय,राजू,जनार्दन,वीरेंद्र है।जो बाहर से कोरोना के चलते लाकडाउन में किसी तरह अपने गांव पहुंचे।इन लोगो के 14 दिन बीत जाने के बाद घर पहुचते ही परिवार के लोगो मे खुशी का ठिकाना नही था।परिजनों ने कहा कि लग रहा है कि जैसे ये लोग वनवास से घर लौटे है। इस मौके पर बसुधारपाह पुलिस चौकी के सिपाही रविन्द्र यादव ,सिपाही रणजीत भारती, आशा माया देवी,आंगनबाड़ी नीतू सिंह,पूनम सिंह,कोटेदार ललन पाण्डेय सहित सफाई कर्मी उपस्थित रहे।इसी क्रम में समरथपाह गांव में बलिया से पहुची डॉक्टरों की एक्टिव सर्विलांस टीम ने रविवार के दिन करोना वायरस को लेकर  करीब 1500 लोगो की जांच की।टीम के डॉक्टरों ने बताया कि गांव के किसी भी व्यक्ति में कोई लक्षण नही मिला है।इस मौके पर डॉ श्यामनन्द सिंह यादव सहित पूरी स्वास्थ्य टीम उपस्थित रही।



रिपोर्टर-आतीश उपाध्याय

No comments