Breaking News

> > >

मां के आशीर्वाद से इनके लिए वरदान साबित हुई जड़ी बूटियां



बलिया:  जड़ी बूटियों का प्रभाव कहें या फिर मां काली का चमत्कार.चाहे जो भी हो लेकिन यह हकीकत है कि कई असाध्य रोगों से पीड़ित लोग, पकड़ी धाम स्थित मां काली के दरबार में हाजिरी लगाने और माँ के अनन्य भक्त रामबदन दास द्वारा दी गई जड़ी बूटियों के सेवन मात्र से आज भला चंगा होकर मां काली का गुणगान कर रहे हैं.


दरअसल, बलिया जिले के सहतवार निवासी  नंदलाल वर्मा को   नाक से सांस लेने में तकलीफ होने लगी तो उन्होंने इसके इलाज के लिए तमाम सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों का चक्कर लगाया लेकिन कोई लाभ नहीं मिला. अंत में मां के दरबार में मत्था टेका और पुजारी रामबदन दास द्वारा दी गई औषधियों का सेवन किया.जिसके लाभ से उनका मर्ज जाता रहा.आज वह पूरी तरह से स्वस्थ है.

कुछ ऐसी ही स्थिति गड़वार थाना क्षेत्र के वासुदेवा गाँव निवासी परमेश्वर नाथ उपाध्याय की थी. जिन्हें लंबे समय से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. अस्पतालों का चक्कर लगाने के बाद भी उन्हें जब कोई राहत नहीं मिली तो थक हार कर वे पकड़ी धाम स्थित मां के दरबार में आए. जहाँ पुजारी राम बदन दास द्वारा दिए गए प्रसाद व जड़ीबूटी के सेवन से उनकी बीमारी ठीक हो गई.

इसके अलावा बलिया जनपद के ही मनियर थाना क्षेत्र के मनियर देवा गांव निवासी मनोज वर्मा की पत्नी कृष्णा देवी की सांस फूलने की बीमारी,  मऊ जनपद के सिपाह इब्राहिमाबाद निवासी अजय कुमार चौरसिया क्षय रोग की बीमारी, हल्दी थाना क्षेत्र के बादीलपुर पोखरा निवासी  जनार्दन सिंह की पत्नी देवांशी दीदी की सांस फूलने की बीमारी,  मनियर के देवापुर निवासी  शिव विनय वर्मा के दमा की बीमारी,  बिहार के मोतिहारी जनपद अंतर्गत झौवाराम गांव निवासी नागेंद्र सिंह की टाइफाइड, सिरदर्द समेत कई बीमारियों और  बिहार के ही रोहतास जिला अंतर्गत मोतिया बाग गांव निवासी  मीना सिंह पत्नी भोला सिंह के थायराइड वालों में बुखार बीमारी मां काली के प्रसाद और पुजारी रामबदन दास द्वारा दिए गए जड़ी-बूटियों के सेवन मात्र से ठीक हो गई.
डेस्क

No comments