Breaking News


अर्द्ध निर्मित गौशाला की दशा देख बिफरे डीएम, लगाई मातहतों को फटकार



मनियर, बलिया। नगर पंचायत अन्तर्गत बन रहे पशु आश्रय स्थल गौरा बगहीं का निरीक्षण जिलाधिकारी हरि प्रताप शाही ने बुधवार को निरीक्षण किया। इस दौरान  जिम्मेदार अधिकारी  व ठिकेदार के मौजूद न होने के कारण नाराजगी जाहिर की।

क्षेत्र में करीब दो वर्षो अर्धनिर्मित बन रहे पशु आश्रय स्थल का निरीक्षण करने पहुंचे जिलाधिकारी ने समय से कार्य पूरा न होने के कारण नाराजगी जाहिर करते हुए नगर पंचायत के वरिष्ठ लिपिक विनोद सिंह से इस कार्य के बारे में विस्तृत जानकारी मांगी। जिलाधिकारी ने करोड़ों रूपए की लागत से बनने वाले अर्द्ध निर्मित आश्रय स्थल को एक एक बिन्दुओं पर पुछताछ की। कार्य बन्द होने के बावत वरिष्ठ लिपिक ने जिलाधिकारी को बताया कि वर्षान्त होने के कारण मिट्टी का भराई व जोड़ाई का कार्य बाधित है। मौसम ठीक होने के बाद कार्य शुरू हो जाएगा। 

जिलाधिकारी ने कहा कि मानक के अनुरूप कार्य कराने की मातहतों को दिशा निर्देश दिया तथा आश्रय स्थल में रह रहे अवारा पशुओं के खान पान व रहने की समुचित व्यवस्था करने पर विशेष बल दिया। लम्बे समय से बन रहे पशु आश्रय स्थल आज तक आधा अधूरा बनने की बात पर जिलाधिकारी ने बताया कि लांक डाउन व वर्षात होने के चलते कार्य बाधित है। मौसम ठीक होने के साथ ही निर्माण कार्य शुरू कर जल्द ही इस कार्य को पूरा करा दिया जाएगा।


रिपोर्ट  राम मिलन तिवारी

No comments