Breaking News

नाग पंचमी की रात बालिका के लिए काल बनकर आया विषधर, डॉक्टर भी नहीं बचा सके जान



मनियर,बलिया। ननिहाल में रह रही एक 13 वर्षिय  बालिका की सर्प दंश से मौत हो गई।  परिजन उसे झाड़-फूंक कराने के लिए बांसडीह रोड स्थित सती माई के स्थान पर ले गए। वहां से ठीक न होने के बाद उसे इलाज हेतु जिला अस्पताल लेकर के गए। वहां भी इंजेक्शन लगने के बाद बालिका को बचाया नहीं जा सका।


जानकारी के अनुसार कुमारी नेहा 12 वर्ष पुत्री बालकरन राजभर निवासी नावट नंबर 1 थाना मनियर जनपद बलिया अपने ननिहाल में रंजीतपुर थाना मनियर नाना गुड्डू राजभर के घर गई हुई थी। शनिवार की रात पलंग पर सोई हुई थी कि विषधर सर्प ने उसे डंस लिया। सर्प के डंसने के बाद बालिका जगी तथा अपने मामी से ममेरी भाई बहनों को भी पलंग से हटाने के लिए कहा और बतायी कि सर्प ने डंस लिया है। परिजन उसे लेकर बालिका के गांव नावट नंबर एक आए। वहां झाड़ फूॅक की गई।

उसके बाद भी हालत में सुधार नहीं होने पर उसे बांसडीह रोड स्थित सती माई के स्थान पर ले जाया गया। वहां भी ठीक न होने के बाद जिला अस्पताल पर ले गए। जब बालिका ठीक नहीं हुई तो फिर गाड़ी लेकर झाड़-फूंक कराने के लिए इधर-उधर भटकते रहे। जब कोई फायदा नहीं हुआ तो उसका अंत में दाह संस्कार कर दिये। इस घटना के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।


रिपोर्ट राम मिलन तिवारी

No comments