Breaking News

जानें किसने समाप्त कराया आपसी बटवारे के लिए 35 साल से चले आ रहे विवाद को, कराया समझौता



बैरिया (बलिया) : तहसीलदार बैरिया शिवसागर दुबे के अथक प्रयास से शनिवार को लगभग 35 वर्षों से चले आ रहा बंटवारे के मामले को आपसी सहमति के साथ समझौता कर समाप्त कराया जिससे उक्त तीनों पाटीदार के साथ है आम लोगों ने भी इस निर्णय की प्रशंसा की उल्लेखनीय है कि ग्राम चौबे की दलकी निवासी रामाशंकर चौबे श्रीकांत चौबे व जय शंकर चौबे के बीच मारुसी जमीन के बंटवारे को लेकर विगत 1985 से विवाद चल रहा था जो धीरे-धीरे उग्र रूप ले चुका था बंटवारे को लेकर अनेक बार खूनी संघर्ष भी हुआ था विगत 3 माह से बंटवारे के मामले में फिर एक बार तूल पकड़ा अनेक बार उप जिलाधिकारी बैरिया सुरेश चंद्र पाल तहसीलदार नायब तहसीलदार लेखपाल पुलिस बल पैमाइश करने के साथ ही आवश्यक कानूनी कार्रवाई भी किया था लगभग 2 माह से पंचायत का दौर चल रहा था लेकिन लोगों की स्वास्थपूर्ति न होने के कारण समझौता नहीं हो रहा था इसी बीच लगभग 1 सप्ताह पूर्व तहसीलदार शिवसागर दुबे मौका मुआयना करने के साथ ही तीनों पक्षों से अपनी स्थिति स्पष्ट करने व अपने दावे के कागजात प्रस्तुत करने का निर्देश दिया तीनों पक्षों द्वारा अभिलेख प्रस्तुत करने के आधार पर पाया कि सभी लोग जनार्दन चौबे के वंशज है और उसी जमीन के बंटवारे को लेकर मामला चला आ रहा है जिसमें क्रमशः रमाशंकर चौबे श्रीकांत चौबे जयशंकर चौबे पक्ष के लोगों का बराबर बराबर हिस्सा बनता है इसी आधार पर तीनों लोगों को बातें समझा कर संतुष्ट किया इसके बाद एक अभिलेख तैयार किया गया जिस पर उक्त निर्णय तहसीलदार ने दिया और तीनों पक्षों ने उस निर्णय पर सहमति जताते हुए अपना हस्ताक्षर भी किए उसके उपरांत तहसीलदार द्वारा स्टैंप लगाकर उसे कानूनी रूप दे दिया गया इस निर्णय से  जहां एक बड़ी समस्या का निदान हो गया  वही न्यायालय में लंबित कई मामले का भी निपटारा हो गया प्रबुद्ध लोगों का कहना है कि अगर ऐसे अधिकारी हो और उनके अंदर इस तरह का निर्णय लेने की भावना हो तो निश्चित रूप से लंबे अरसे से चले आ रहे विवाद समाप्त होगा वही न्यायालय में लंबित मुकदमे में भी कमी आएगी।



रिपोर्ट : वी चौबे

No comments