Breaking News

> > >

बलिया के 18 सरकारी स्कूलों में नहीं बंटा ड्रेस तो बीएसए ने प्रधानाध्यापकों का वेतन रोका

 


बलिया। प्राथमिक परिषदीय विद्यालयों में बच्चों में वितरित होने वाली ड्रेस वितरण में हीला हवाली करना जिले 18 प्रधानाध्यापकों को भारी पड़ गया है। उनके कृत्य को शासनादेश का उल्लंधन मानते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी शिव नारायण सिंह में तत्काल प्रभाव से वेतन भुगतान पर रोक लगा दी है। शुक्रवार को दुबहड़, रसड़ा और नवानगर के खंड शिक्षा अधिकारी को लिखे पत्र में बीएसए ने आदेश का कड़ाई से अनुपालन कराने का निर्देश दिया है।


संबंधित ब्लाकों के खंड शिक्षा अधिकारियों को लिखे पत्र में बेसिक शिक्षा अधिकारी ने स्पष्ट किया है कि शासनादेश के अनुरूप प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में स्वयं सहायता समूह के द्वारा तैयार ड्रेस का वितरण किया जाना था। जबकि नवनगर के मठिया और लक्ष्मीपुर के विद्यालों कें प्रधानाध्यापकों ने बाजार से ड्रेस की खरीदारी की। इसके अलावा दुबहड़ ब्लाक के दुबहड़, माधोमठ, अगरौली, बसरिकापुर, सवरुबांध नं.-1 व 2, बघौली उच्च व प्राथमिक विद्यालय, और बाबू राम के छपरा के स्कूलों के प्रधानाध्यापकों से ड्रेस लेने से इंकार किया। जबकि रसड़ा ब्लाक के खड़सरा-1 व 2, धनईपुर, यादव बस्ती धनईपुर अतरसुआं,मललाह बस्ती सिलहटा, सिलहटा व हरिजन बस्ती मुस्तफाबाद में स्थित विद्यालयों के प्रधानाध्यापक ड्रेस वितरण में आनाकानी कर रहे है, जो खुलेआम शासनादेश का उल्लंघन है और अपराध की श्रेणी में आता है।





रिपोर्ट- धीरज सिंह

No comments