Breaking News

गया था विदेश कमाने, घर आया शव तो मचा कोहराम


गड़वार(बलिया):थाना क्षेत्र के नवादा गांव निवासी मुकेश चौहान की कतर देश में मृत्यु के उपरांत उसका शव दो माह बाद घर पर पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया।


मुकेश चौहान(25)वर्ष पुत्र दिलीप चौहान गत फरवरी माह में कम्पनी में काम करने कतर देश गया था जहाँ उसकी मौत कम्पनी में गैस फटने के कारण गत 28जुलाई को हो गई।उसकी मौत की सूचना कम्पनी द्वारा उसके घरवालों के मोबाईल पर फोन करके दी गई थी कि उक्त युवक की मौत हो गई है आप लोग उसके शव को ले जाने की व्यवस्था करिए।इस सूचना के बाद मृत युवक के परिजन सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त,मंत्री द्वय उपेंद्र तिवारी व आनन्द स्वरूप शुक्ला तथा जिलाधिकारी  को उक्त घटना के बारे में अवगत कराकर युवक के शव को भारत में लाने की गुहार लगाए थे।इसको संज्ञान लेकर शासन प्रशासन द्वारा भारत सरकार के विदेश मंत्री को पत्र लिखकर अवगत कराते हुए युवक के शव को लाने की प्रार्थना की गई थी।

लॉक डाउन होने के वजह से हवाई उड़ानों के बंद होने के कारण शव को लाने में दिक्कत हो रही थी।लगभग दो माह बाद भारत सरकार ने युवक के शव को हवाई जहाज द्वारा भारत मंगाया।शव दिल्ली एयरपोर्ट पर गत गुरुवार के तड़के 3 बजे पहुंचा।वहाँ परिजन अपना निजी साधन जिसको दिल्ली ले जाने व लाने का पास जिलाधिकारी बलिया द्वारा बनाया गया था को लेकर पहले से मौजूद थे से युवक के शव को वहाँ से लेकर चल दिये और शुक्रवार को प्रातः 5बजे अपने गांव नवादा पहुंच गए।युवक के शव को देखते ही घर के सभी सदस्य विलाप करने लगे सभी उपस्थित बाहरी लोगों के आंखों से भी आंसू निकल गए।जिला पंचायत सदस्य विजय प्रकाश वर्मा के देखरेख में निकले अंतिम शव यात्रा में भारी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी।अंतिम संस्कार बलिया महावीर घाट पर किया गया।



रिपोर्ट-पीयूष श्रीवास्तव

No comments