Breaking News

> > >

छठ पूजा के आखिरी दिन उगते सूर्य को भक्तों ने दिया अर्घ्य



रतसर (बलिया)छठ महापर्व के चार दिन के अनुष्ठान के आखिरी दिन शनिवार को छठ व्रतियों ने तालाबों, पोखरों एवं सरोवरों पर पहुंचकर सुबह सूर्य की पूजा करके परिवार की सुख समृद्धि की कामना की। इस साल कोरोना महामारी के कारण लोग काफी सतर्कता के साथ दिखाई दिए। जिला प्रशासन ने भी इसे गम्भीरता से लेते हुए सतर्कता बरतने के लिए दिशा निर्देश जारी किए थे। कोरोना महामारी ने इस बार सभी त्योहारों को प्रभावित किया इसके बावजूद छठ पर्व पर लोगों ने उसी उत्साह के साथ त्योहार मनाया। क्षेत्र के स्थानीय कस्बा सहित जनऊपुर, नूरपुर, अरईपुर, पड़वार स्थित तालाब, पोखरों एवं पाताल गंगा के तट पर महिलाओं ने छठ पर्व पर विधि विधान से पूजा अर्चना किया। इस साल वैश्विक महामारी को देखते हुए कोविड -19 गाइड लाइन का पालन किया। महिलाओं ने शुक्रवार की सायंकाल छठ मां का पूजा करके डुबते सूर्य को अर्घ्य देकर षष्ठी के महा पर्व डाला छठ का विधिवत समापन किया वहीं सूर्योदय पर निर्जला व्रती महिलाओं ने अर्घ्य देने के बाद पारन किया।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments