Breaking News

> > >

संत मनीषियों के आदर्शों को आत्मसात करने की जरूरत : अमित यादव



रतसर (बलिया) जिला पंचायत सदस्य अमित यादव ने भृगु भूमि की धार्मिक, पौराणिक, अध्यात्मिक राष्ट्रीयता की पृष्ठभूमि की चर्चा की। उन्होनें इस परिप्रेक्ष्य में आधुनिक सामाजिक विसंगतियों को दूर करने के लिए महान संतो व मनीषियों के आदर्शो को अपनाने की आवश्यकता पर बल दिया। कहा कि जंगली बाबा ने अपने उपदेश, कार्यो एवं संभाषणों के माध्यम से जो कुछ भी इस समाज को दिया वह अनुकरणीय है। श्री यादव मंगलवार की रात समीपवर्ती पड़वार गांव स्थित जंगली बाबा समाधि स्थल पर आयोजित दो दिवसीय यज्ञोत्सव में उमड़े श्रद्धालुओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस स्थान से मुझे शुरू से ही लगाव है। तथा प्रत्येक वर्ष मै मत्था टेकने यहां आता रहता हूं। उन्होने जोर देकर कहा कि धार्मिक आयोजन में आया हूं इसलिए राजनैतिक बात नही होगी। कहा कि विकास के लिए मेरा शुरू से प्रयास रहा है तथा यह हमेशा जारी रहेगा। कार्यक्रम की शुरूआत विराट विरहा दंगल प्रतियोगिता का फीता काटकर कार्यक्रम की शुरूआत की। दो दलीय विरहा दंगल में विरहा सम्राट सुरेन्द्र यादव (उ०प्र०) एवं बिहार के मीरा मुर्ति के बीच देर रात तक चले कार्यक्रम का श्रोताओं ने भरपुर आनन्द लिया। ग्राम प्रधान राजकमल यादव के आग्रह पर श्री अमित यादव ने नूरपुर-रतसर मार्ग से जंगली बाबा स्थान होते हुए प्रा० विद्यालय पड़वार तक दो सौ मीटर आरसीसी रोड बनाने की मंच से घोषणा की। कार्यक्रम में सुधीर यादव, लालबाबू यादव, श्यामदेव यादव, लाल जी, सूर्यनाथ, लक्ष्मण जी, दिनेश, बंश बहादुर, राहुल, रंगोली, सोनू यादव, बीर बहादुर, लालू यादव सहित भारी मात्रा में लोग मौजूद रहे। यहां आयोजित विशाल भंडारे में हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। कार्यक्रम के संयोजक ग्राम प्रधान राजकमल यादव ने सबके प्रति आभार व्यक्त किया।


रिपोर्ट : धनेश पाण्डेय

No comments