Breaking News

> > >

राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित सेवानिवृत्त वयोवृद्ध शिक्षक को प्राथमिक शिक्षक संघ पंजीकृत ने किया सम्मानित

 


बलिया : बेहतरीन शिक्षणशैली, गुणवत्ता परक शिक्षण और शिक्षा में मौलिक सुधार हेतु किये गये अनूठे कार्य के लिए शिक्षक दिवस के अवसर पर दी जाने वाली सर्वोच्च सम्मान 'राष्ट्रपति पुरस्कार' से सम्मानित, 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के प्रथम नायक, बागी धरती के लाल वीर मंगल पांडे की जन्मभूमि ग्राम नगवां के सेवानिवृत्त वयोवृद्ध शिक्षक पं0 शिवजी पाठक को उनके जन्मदिन की 85 वें वर्षगांठ पर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ पंजीकृत लखनऊ के प्रांतीय उपाध्यक्ष व प्राथमिक विद्यालय शिवपुर दियर नंबर - 1 के प्रधानाध्यापक गणेशजी सिंह के साथ प्राथमिक शिक्षक संघ पंजीकृत जनपद बलिया के जिलाध्यक्ष निर्भय नारायण सिंह तथा जिला उपाध्यक्ष व जिला स्काउट मास्टर अरविन्द कुमार सिंह ने जनपद के अन्य पदाधिकारियों के साथ उनके पैतृक आवास पर पहुँच माल्यार्पण, स्मृति चिन्ह व अंगवस्त्रम् से सम्मानित किया तथा मिठाई खिलाकर जन्मदिन की बधाई दी। पं0 शिवजी पाठक को उनके अनूठे शैक्षिक कार्यों के लिए 5 सितम्बर 1998 में तत्कालीन राष्ट्रपति महामहिम के. आर. नारायणन के द्वारा उन्हें स्मृति चिह्न देकर राष्ट्रपति पुरस्कार से इन्हें सम्मानित किया गया था। पाठक जी एक विद्वान शिक्षक व वेद - पुराणों के ज्ञाता होने के साथ ही उनके अन्दर एक अद्भुत शिक्षण कौशल रहा जिसके बदौलत क्षेत्र तथा परिवार में सदैव सम्मान रहता है। इनकी तीन पीढ़ियां आज भी बेसिक शिक्षा परिवार की शोभा बढ़ा रही हैं, जिनमें सबसे छोटे पुत्र बृजकिशोर पाठक शिक्षक बेलहरी व पौत्र अजीत कुमार पाठक जिला समन्वयक मध्याह्न भोजन योजना हैं। इस सुनहरे अवसर पर उनके समकालीन साथी सेवानिवृत्ति वयोवृद्ध शिक्षक लक्ष्मण सिंह, शिक्षक पुत्र अवधकिशोर पाठक, राकेश पाठक, पौत्रों, परिवारिक व पड़ोसी सदस्य उपस्थित रहे तथा उन्हें सम्मानित किये।


रिपोर्ट : धीरज सिंह

No comments