Breaking News

> > >

शासन प्रशासन की नाकामी का परिणाम है शिवपुर दीयर 82 की घटना :-अरविंद गिरी



दुबहर, बलिया : स्थानीय थाना क्षेत्र के शिवपुर दीयर नई बस्ती गांव के सामने ट्रक की चपेट में आने से विश्वकर्मा पासवान 25 की मौत के चलते हुए बवाल तथा पुलिसिया उत्पीड़न को लेकर समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश अध्यक्ष अरविंद गिरी ने शासन प्रशासन के साथ-साथ स्थानीय भाजपा नेताओं को जिम्मेदार ठहराया। 

उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि जब रात को 9:00 बजे शहर में नो एंट्री खुलती है तब 8:30 बजे ट्रक कैसे पहुंचा।

समय से पूर्व NO - ENTRY को खोलना ही ब्याशी दुर्घटना का मुख्य कारण है , वर्तमान समय मे प्रशासन स्थानीय जनप्रतिनिधियों के इशारे पर पूर्ण रूप से धन उगाही में लगा हुआ है। 

आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने दबिश के नाम पर आधी रात को बेगुनाह लोगों के घरों के दरवाजे, खिड़कियों के शीशे बिजली के उपकरण, मोटरसाइकिल ,आदि को काफी क्षति पहुंचाते हुए घर की महिलाओं को गंदी गंदी गालियां भी दी, पुलिस के इस तानाशाही रवैया से गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है, तथा गांव के लोग काफी डरे हुए हैं।

 निर्दोषो को फर्जी मुकदमे में फसाया जा रहा है। समय रहते अगर प्रशासन अपना रुख नही बदलता है तो पूरे जनपद में उग्र आन्दोलन होगा।

 आरोप लगाते हुए कहा कि, स्थानीय पुलिस पैसा लेकर नो एंट्री में ही बड़े वाहनों को जबरजस्ती पास कराती है।  जिसका कमीशन भाजपा के स्थानीय जनप्रतिनिधि  को जाता है।  उन्होंने शासन ,प्रशासन तथा भाजपा सरकार की तरफ इंगित करते हुए कहा कि बलिया हमेशा क्रांतिकारियों की धरती रही है, यहां पर किसी भी प्रकार के अन्याय को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता बर्दास्त नहीं करेंगे।  कहा कि पुलिस द्वारा स्थानीय जनप्रतिनिधियों  तथा भाजपा नेताओं के इशारे पर गांव के लोगों पर बेरहमी से लाठियां बरसाना , बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आरोप लगाया कि पुलिस प्रशासन अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए लोगों को फर्जी मुकदमे मे फंसा रही है। 

उन्होंने जिला प्रशासन से तत्काल लोगो के ऊपर दर्ज फर्जी मुकदमे को वापस लेने तथा मृतक के परिजनों को सरकारी मुआवजा दिलाने की मांग की।


रिपोर्ट:-नितेश पाठक

No comments