Breaking News

माशूका के बालिग होने के इंतजार में प्रेमी ने काटा जेल



लखनऊ। यूपी की लखनऊ में एक प्रेमी जोड़े की लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है। 20 वर्षीय आशिक ने अपनी माशूका के बालिग होने के इंतजार में जेल तक काटा। शनिवार को वह जैसे ही 18 साल की हुई, प्रेमी ने हंगामा खड़ा कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस प्रेमिका के साथ महिला हेल्प लाइन के आशा ज्योति केंद्र के वन स्टॉप सेंटर लेकर आई। अब यहां दोनों की रीति रिवाज से शादी कराने की तैयारियां चल रही हैं।


जानकारी के अनुसार, माल थाना क्षेत्र के भगवंतखेड़ा निवासी सुमित यादव की पड़ोसी रितिका से बचपन से दोस्ती थी। बड़े होकर दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया। लेकिन रितिका के घरवाले रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे। परिवार का विरोध देख 8वीं पास सुमित और 9वीं पास रितिका 19 अप्रैल को घर से भाग गए। दोनों अलीगंज स्थित आर्य समाज मंदिर पहुंचे। आधार कार्ड में दर्ज जन्मतिथि के हिसाब से रितिका को बालिग मानकर आर्य समाज मंदिर के प्रमुख ने दोनों की शादी करवाकर प्रमाण पत्र दे दिया।

आर्य समाज मंदिर में शादी की जानकारी होते ही रितिका के घरवाले उसका अस्पताल का बर्थ सर्टिफिकेट लेकर माल थाने पहुंचे। इसके हिसाब से रितिका नाबालिग थी। सर्टिफिकेट के आधार पर माल पुलिस ने सुमित के खिलाफ केस दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 24 अप्रैल से वह जेल में बंद था। तीन दिन पहले कोर्ट से जमानत मिली तो सुमित घर पहुंचा। सुमित ने बताया कि शनिवार को रितिका 18 साल की होने वाली थी। इसलिए शुक्रवार को वह पूरी रात नहीं सोया। सुबह होते ही रितिका के घर पहुंच गया और उसे अपने साथ ले जाने की जिद पर अड़ गया। इस पर दोनों परिवार जुट गए और मारपीट की नौबत आ गयी।


जानकारी मिलते ही माल पुलिस पहुंची तो सुमित ने बताया कि अब दोनों बालिग हैं और उन्हें कोई रोक नहीं सकता। इस पर पुलिस उन्हें थाने लाई और वहां से आशा ज्योति केंद्र भेज दिया। आशा ज्योति केंद्र की प्रभारी अर्चना सिंह ने बताया कि दोनों को सुरक्षा में रखा गया है। शादी की तैयारियां चल रही हैं। सोमवार को उन्हें कोर्ट ले जाया जाएगा। यहां रजिस्ट्रार के यहां उनके शादी का पंजीकरण करवाया जाएगा।




डेस्क

No comments