Breaking News

प्रयागराज से बिहटा जा रहे चिनूक हेलीकाॅप्टर की बलिया के इस सीमावर्ती इलाके में हुई इमरजेंसी लैंडिंग

 


रिपोर्ट : धीरज सिंह


-तकनीकी खराबी की वजह से करानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंग


-मानिकपुर हाई स्कूल के खेल मैदान में उतारा गया हेलीकाॅप्टर

-हेलीकाॅप्टर और उसमें मौजूद एयरफोर्स के सभी अधिकारी व जवान सुरक्षित


बलिया। प्रयागराज से बिहटा जा रहे इंडियन एयरफोर्स के विशाल चिनूक हेलीकाॅप्टर की  बुधवार की शाम पांच बजे राजपुर प्रखंड के मानिकपुर हाई स्कूल मैदान में इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। तकनीकी खराबी की वजह से ऐसा हुआ। हालांकि हेलीकाॅप्टर से लेकर उसमें मौजूद एयरफोर्स के करीब बीस अधिकारी और जवान सही-सलामत हैं। गुरुवार की शाम तक हेलिकॉप्टर को ठीक करने का काम जारी रहा।

मिली जानकारी के अनुसार प्रयागराज से बिहटा के लिए उड़ान भरने के बाद इंडियन एयरफोर्स का विशाल हेलीकाॅप्टर राजपुर के आसमान से गुजर रहा था कि अचानक उसमें तकनीकी खराबी आ गई। इसके चलते स्क्वाड्रन लीडर ने आनन-फानन में हेलीकाॅप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग की सोची। नीचे मानिकपुर हाई स्कूल का खेल मैदान दिखा, जहां हेलीकाॅप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई। हालांकि लैंडिंग पूरी तरह सेफ रही। 



                  बताया गया कि हेलीकाॅप्टर में दो स्क्वाड्रन लीडर के साथ ही इंडियन एयरफोर्स के बीस अधिकारी और जवान मौजूद थे। सभी सही-सलामत हैं।  बारिश होने के कारण मिट्टी गिली थी इस वजह से हेलिकॉप्टर का पहिया मिट्टी में धंस गया है तकनीकी खराबी को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन रूक रूक कर हो रही बारिश इसमें बाधा बन रही है। इधर, विशालकाय हेलीकाॅप्टर की लैंडिंग होते ही उसे देखने के लिए गांव-जवार के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी लोग सेल्फी लेने लगे और वीडियो बनाने लगे। 

              हर आदमी के लिए इतने बड़े हेलीकाॅप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग कौतूहल का विषय बनी रही। मानिकपुर के ग्रामीणों ने बताया कि एकबारगी तो लगा कि विशालकाय हेलीकाॅप्टर गांव पर ही गिर जाएगा। लोग डर के मारे भागने लगे, लेकिन कुछ ही पल में हेलीकाॅप्टर हाई स्कूल के खेल मैदान में लैंड कर गया। एसपी नीरज कुमार सिंह ने बताया कि हेलीकॉप्टर में तकनीकी खराबी आने के कारण इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई है एहतियात के तौर पर हेलीकॉप्टर की सुरक्षा बढ़ा दी गई।

No comments