Breaking News

Akhand Bharat

चौराचौरी शताब्दी महोत्सव पर एक दिवसीय जागरूकता अभियान/ लघु प्रदर्शन का हुआ आयोजन

  


रेवत  (बलिया) स्थानीय ब्लाक के ग्राम सभा खानपुर स्थित पंचायत भवन पर शनिवार दोपहर उत्तर प्रदेश खादी व ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा चौरी -चौरा शताब्दी महोत्सव के अवसर पर आयोजित एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम/ लघु प्रदर्शनी का आयोजन किया गया । प्रदर्शनी की शुरुआत ग्राम प्रधान भारती पाठक व जिला ग्रामोद्योग अधिकारी आर एस प्रजापति द्वारा फीता काटकर उद्घाटन किया गया । तत्पश्चात मुख्य अतिथि सहित बाहर से आए हुए अतिथियों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई । 

      आर एस प्रजापति ने स्थानीय ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना व राज्य सरकार की मुख्यमंत्री माटी कल्याण योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के बेरोजगार लोगों को स्थानीय बैंकों के माध्यम से वित्तीय सहायता उपलब्ध करा करके  लाभार्थियों को गांव में ही रोजगार सृजन प्रदान करने हेतु लोन का वितरण करती है । बताया कि जिन लोगों की उम्र 18  से 50 वर्ष है और गांव में है। उन्हीं लोगों को बैंकों के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करके योजना का लाभ लिया जा सकता है । कहा कि विशेष रूप से महिलाओं के लिए  सिलाई ,कढ़ाई, अगरबत्ती उद्योग, मोमबत्ती बनाना, ब्यूटीशियन कोर्स ,चिप्स बनाना, अचार , जेम, जैली , चटनी बनाना इत्यादि प्रशिक्षण भी विभाग द्वारा दिया जाता है । प्रदर्शनी में मनियर (विशनपुरा) निवासी राजकुमार प्रजापति ने मिट्टी द्वारा बनी सामान  गिलास, कटोरी ,दिया मनोज यादव बडसरी निवासी अगरबत्ती का स्टाल तथा अनुराग कुमार पांडे डुमरिया  निवासी ने कपड़े द्वारा बनी कैरीबैग का स्टाल लगा करके प्रदर्शनी को आकर्षित बना दिया था ।

           इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रधान विजेंद्र वर्मा , उमेश राजभर , लल्लन तिवारी ,शिवजी पाठक, सैयद मोहम्मद उमर ,राजनाथ चौधरी ,संजीव पांडे, रामाशंकर पाठक ,तेज नारायण पाठक, गणेश पटेल, विजेंद्र सिंह  ,सरोज सिंह,प्रमिला सिंह, कलावती देवी, मालती देवी, सावित्री देवी, रमाशंकर पाठक, राजकुमार सिंह ,राजनाथ चौधरी, लालमुन्नी देवी इत्यादि की उपस्थिति रही । कार्यक्रम का संचालन प्रवक्ता मनोज पाठक तथा आए हुए सभी का प्रधान भारती पाठक ने आभार व्यक्त किया ।


पुनीत केशरी

No comments