Breaking News

Akhand Bharat

सरकार की मनसा के विपरीत कार्य कर रहे कर्मचारी





चिलकहर- स्थानीय ब्लाक परिसर में 3 दिनों तक खंड विकास अधिकारी एडीओ पंचायत पंचायत सहायक और सफाई कर्मी साथ में मिलकर योगा का प्रशिक्षण किए केंद्र और राज्य की सरकार गांव गांव तक लोगों के पास योगा पहुंचाना चाहती है और लोगों को योग के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके इसके लिए सरकार युद्ध स्तर पर काम कर रही है इसके लिए सरकार सभी ब्लाकों में 3 दिनों का योग प्रशिक्षण कराने के बाद 14 से 21 जून तक प्रत्येक गांव में 100, 100 लोगों के साथ पंचायत सहायक को योग प्रशिक्षण शिविर लगाकर योगाभ्यास कराने का आदेश था लेकिन सरकार की मंशा के विपरीत चिलकहर ब्लाक के कर्मचारी करने पर आतुर हैं चिलकहर ब्लॉक में सरकार की नहीं चिलकहर ब्लॉक के कर्मचारियों की चलती है, 14 तारीख को चिलकहर ब्लाक अंतर्गत 66 गांवों में महज सिर्फ 12 गांव में योग प्रशिक्षण शिविर लग सका, गौरा, इंदरपुर, छिबी, पचहूंआ, गूरगूजपूर, बसनवार, उचेडा, पांडेपुर, नगपुरा, कझारी, सहदेश, सरायबगडौरा, बाकी अन्य गांव के प्रधान और सचिव पंचायत सहायक सरकार के आदेशों का खुलेआम अवहेलना करते हुए नजर आए वहीं दूसरे दिन 15 तारीख को 66 गांव में से सिर्फ़ 30 गांव में ही योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन हो सका , देखने की बात यह है कि एक तरफ पंचायत सहायक प्रधान और सचिव योग  प्रशिक्षण कराने में रुचि नहीं ले रहे हैं तो जिन जिन गांव में योग प्रशिक्षण शिविर लग भी रहा है वहां सिर्फ दिखावे के लिए प्रशिक्षण कराया जा रहा है सरकार का आदेश है कि प्रत्येक गांव में 100-100 लोगों के साथ योगाभ्यास करना है लेकिन गांव में छोटे-छोटे बच्चों को पकड़ कर के 8 ,10 लोग ही योग प्रशिक्षण में शामिल हो रहे हैं इसके विषय में ना ही गांव में कहीं भी सार्वजनिक बैठक बुलाकर के किसी को बताया गया है, और ना ही किसी को किसी प्रकार की सूचना दी गई है


रिपोर्टर-कृष्ण मोहन पाण्डेय

No comments